फिल्मी स्टाइल में हरियाणा और राजस्थान पुलिस की 15 गाड़ियों ने घेरा, इनामी बदमाशों को किया गिरफ्तार

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 29 May, 2018

हरियाणा पुलिस द्वारा राजस्थान का मोस्ट वांटेड अपराधी वह दिल्ली पुलिस का 50 हजार के इनामी बदमाश सुबा उर्फ सबूदीन को अपने 2 साथियों के साथ गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है ।यह जानकारी आज हरियाणा पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता ने दी ।

प्रवक्ता ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार रात करीब ढाई बजे पुलिस को सूचना मिली कि गो-तस्कर भिवानी की ओर से एक टाटा गाडी मे गाये भर कर कारोली मोड से रेवाडी की और आ रहे है। सूचना के आधार पर पुलिस टीमों ने डहीना के निकट नाकाबंदी शुरू की थी। परन्तु गो-तस्करों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग करते हुए अपनी गाडी वापिस मोड दी तथा कच्चे रास्ते से कनीना की ओर निकल गए।

पुलिस द्वारा पीछा किया गया तो गो-तस्करों ने गाडी मे भरी गायें उठा कर रास्ते मे फेंकनी शुरू कर दी। लेकिन सीआइए इंस्पेक्टर सतेंदर सिंह अपनी टीम में शामिल एसआई सुनील व अब्बास खान, एएसआई रणबीर, सुभाष, रजक, प्रधान सिपाही शिव कुमार, रामौतार, रविदत्त,प्रदीप, सिपाही प्रवीण, अनिल, सचिन, सतपाल, रमेश व शिकन्दर तथा साइबर सेल से सिपाही विजय कुमार को साथ लेकर गो-तस्करों का पीछा करते हुए गांव माजरी पहुँच गया और नाकाबंदी शुरू कर आरोपियों की गाडी को रूकवाने का प्रयास किया।

लेकिन आरोपियों ने टाटा गाडी से बैरिकेट को तौड दिए और पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग मे सीआइए मे तैनात एएसआई रणबीर व प्रधान सिपाही रविदत्त गोली लगने से घायल हो गए। दो जवानों को गोली लगने के बाद भी बहादुरी दिखाते हुए सीआइए पुलिस आरोपियों का पीछा करती रही ओर गावं सोडावास-पदमाडा के नजदीक अपने आप को पुलिस द्वारा घिरा देख कर आरोपी गाडी को छोड कर भागने लगे लेकिन पुलिस ने तीन आरोपियों को दबोचने मे सफलता हासिल की है।

काबू किए गए आरोपियों की पहचान मेवात जिला के गांव पल्ला निवासी गाडी चालक सुबा उर्फ सबूदीन व शोकिन उर्फ काला व गावं सोप निवासी उमर के रूप मे हुई है। पुलिस ने मौके से टाटा 407 गाडी भी बरामद की है। जांच से पता चला कि काबू किया गया आरोपी सुबा गौ तस्करी गिरोह का सरगना है और राजस्थान का मोस्टवांडेड अपराधी है तथा दिल्ली पुलिस द्वारा उक्त आरोपी पर 50 हजार रूपये ईनाम भी रखा हुआ है।

उक्त घटना की सूचना मिलते ही एसपी राजेश दुग्गल ने चंडीगढ से ही फोन कर घटना की पूर्ण जानकारी लेते हुए घायल जवानो से बात कर हाल चाल पूछा। उन्होने कहा कि जिला मे किसी भी सुरत मे किसी भी तरह का अपराध नही पनपने दिया जाएगा। अपराध व अपराधियों पर अंकुश लगाने मे आम जन पुलिस का सहयोग करे। जनता के सहयोग के बिना अपराध पर अंकुश लगान नामुमकिन है।

जिला में गो-तस्करी पर पूरी तरह अंकुश लगाया जाएगा। हाल ही में दोनों घटनाओं में पुलिस बहादुरी के साथ गो-तस्करों का मुकाबला किया है तथा बदमाशों को कड़ा मैसेज दिया है कि यहां उनके लिए कोई जगह नहीं है। गो-तस्करी के नेटवर्क पूरी तरह खत्म किया जाएगा। गो-तस्करों से मुकाबला करने वाले जवानों को सम्मानित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *