Home Breaking एक लाख का इनामी बदमाश सुरेंद्र उर्फ सुंदर पुलिस की गिरफ्त में, पुलिस हिरासत में हत्या का हुआ खुलासा

एक लाख का इनामी बदमाश सुरेंद्र उर्फ सुंदर पुलिस की गिरफ्त में, पुलिस हिरासत में हत्या का हुआ खुलासा

0
0Shares

Pradeep Dhankar, Yuva Haryana

Jhajjar, 21-05-2018

हरियाणा पुलिस ने झज्जर में ऑपरेशन क्लीन के तहत एक लाख के इनामी बदमाश सुरेंद्र उर्फ सुंदर को काबू करने में कामयाबी हासिल की है।
पुलिस टीम द्वारा गश्त के दौरान गुप्त सूचना के आधार पर एक अन्य वारदात की फिराक में इस बदमाश को अवैध हथियार के साथ थाना बेरी के एरिया से काबू किया गया। पकड़ा गया बदमाश हत्या, हत्या के प्रयास व लूटपाट की अनेक वारदातों में शामिल रहा है।
पकड़ा गया अति वांछित बदमाश सुरेन्द्र उर्फ सुंदर, शनिदेव उर्फ़ कुकी आपराधिक गिरोह का बदमाश है। पकड़े गए अति वांछित बदमाश सुरेन्द्र उर्फ सुंदर ने जेल में बंद सतीश उर्फ काला निवासी किरडोद जिला सोनीपत की पुलिस कस्टडी में हत्या करने की योजना का खुलासा किया।
पुलिस टीम को थाना बेरी के एरिया में गश्त के दौरान गुप्त सूचना मिली कि अपराधिक गिरोह का एक मोस्टवॉन्टेड इनामी बदमाश हथियार लिए हुए किसी अन्य वारदात की फिराक में है  जिस पर पुलिस टीम तत्परता से मौका पर बेरी दूबलधन रोड ड्रेन नंबर 8 के पुल के पास पहुंची तो एक युवक पुलिस टीम को देख कर संदेहजनक हालात में भागने की कोशिश करने लगा, जिस पर पुलिस टीम द्वारा मुस्तैदी से कार्रवाई करते हुए युवक को काबू किया गया।
पकड़े गए आरोपी की पूछताछ में पहचान सुरेन्द्र उर्फ सुंदर पुत्र प्रेम सिंह निवासी गांव हलालपुर जिला सोनीपत हाल स्वतंत्र नगर नरेला दिल्ली के तौर पर की गई। पकड़ा गया अति वांछित बदमाश सुरेंद्र उर्फ सुंदर थाना बेरी में दर्ज जान से मारने की नियत से किए गए जानलेवा हमला के मामले में वांछित आरोपी था।
पकड़े गए वांछित बदमाश सुरेन्द्र के कब्जे से उपरोक्त वारदात में इस्तेमाल किए गए हथियार देशी पिस्तौल को बरामद किया गया। जानलेवा हमले की उपरोक्त वारदात में स्थानीय पुलिस द्वारा वांछित बदमाश को पकडऩे के लिए एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था।

 

इस वारदात के अलावा सुरेन्द्र ने अपने साथियों के साथ साल 2007-8 में अमित निवासी लाल दरवाजा सानीपत की पुरखास अड्डे पर हत्या की वारदात को अंजाम देने,साल 2008 में कालूपुर चुंगी सोनीपत पर अपने साथियों के साथ मिलकर सिसाना निवासी भिंडा की गोली मारकर हत्या करने,साल 2010 में अपने साथियों के साथ मिलकर झज्जर के गुरूग्राम मार्ग पर इनोवा गाड़ी छीनने सहित कई अन्य संगीन वारदातों में शामिल था।

सुरेन्द्र को पुलिस ने अदालत में पेश किया जहां से उसे चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पंचकूला में 9 करोड़ की लागत से बना रोजगार भवन का किया गया उद्घाटन

Yuva Haryana News, Panchkula, 15 July 2020 पंचकूलì…