पेट्रोल-डीजल पर चर्चा के लिए मिले 6 राज्यों के मंत्री और अफसर, दाम घटेंगे नहीं बस पड़ोसी राज्यों में एक समान होंगे

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana, Chandigarh

हरियाणा के वित्त, आबकारी एवं कराधान मंत्री कैप्टन अभिमन्यु की पहल पर उत्तरी राज्यों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की पहल पर 6 राज्यों के प्रतिनिधियों ने चंडीगढ़ में बैठक की और एक राष्ट्र एक कर की पद्धति पर उत्तरी राज्यों में पैट्रोल व डीजल की दरों पर एक समानता लाने पर सहमति बनाई। इसके लिए सभी राज्यों के अधिकारियों की एक उप-कमेटी गठित करने का निर्णय लिया गया, जिसकी बैठक 15 दिनों में बुलाई जाएगी और यह कमेटी अपनी-अपनी राज्य सरकारों को इसकी सिफारिशें देगी।

ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि ये सभी मंत्री और अधिकारी पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों से लोगों को राहत दिलाने की कोई पहल करेंगे लेकिन बैठक के बाद किसी ने ऐसा कोई संकेत नहीं दिया। सभी प्रतिनिधियों का ध्यान इस बात पर था कि पड़ोसी राज्यों में आबकारी करों की दरें ज्यादा ऊंची-नीची ना हों और पेट्रोल व शराब के दाम सभी जगह एक समान जैसे हों।

बैठक के बाद वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि दिल्ली की सलाह पर सभी उत्तरी राज्यों के लिए एक समान आबकारी नीति लागू की जाएगी ताकि शराब की दरो में सभी उत्तरी राज्यों में एक समानता  रहे। इसी प्रकार, पंजाब की ओर से सुझाव दिया गया कि सभी उत्तरी राज्य परिवहन के लिए भी एक ऐसी ही नीति बनाकर सहयोग करें ताकि रजिस्ट्रेशन व परमिट फीस से राजस्व की हानि राज्यों को न हो, क्यों पंजाब व हरियाणा के कई ट्रकों व अन्य वाहनों का रजिस्ट्रेशन दूसरे राज्यों से है। आबकारी एवं परिवहन के लिए भी अधिकारियों की कमेटी गठित की गई है, जो एक समान दरें लागू करने पर अपनी-अपनी राज्य सरकारों को रिपोर्ट देंगी।

वित्त मंत्री ने कहा कि आज हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, केन्द्र शासित प्रदेश चण्डीगढ़, उत्तर प्रदेश व दिल्ली के वित्त मंत्री व अधिकारियों ने भाग लिया। दिल्ली की ओर से उप-मुख्यमंत्री व वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया व पंजाब की ओर से वित्तमंत्री मनप्रीत बादल ने हिस्सा लिया, जबकि अन्य राज्यों की ओर से उच्चाधिकारियों ने बैठक में उपस्थिति दर्ज की।

प्रतिनिधियों ने हरियाणा की मेजबानी का स्वागत करते हुए कहा कि 2015 के बाद उत्तरी राज्यों की यह दूसरी बैठक है। इसके लिए वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु व हरियाणा के आबकारी एवं कराधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल के विशेष आभारी हैं।

बैठक में चण्डीगढ़ के गृह सचिव अरुण कुमार गुप्ता, हरियाणा की कराधान आयुक्त अशिमा बराड़ के अलावा उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *