2 भाजपा नेताओं पर इनेलो की महिला कार्यकर्ता को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला हुआ दर्ज

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Pradeep Dhankhar, Yuva Haryana

Bahadurgarh, 10 April, 2019

बहादुरगढ़ में इनेलो की महिला कार्यकर्ता को आत्महत्या के लिये उकसाने के मामले में भाजपा के दो नेताओं पर एफआईआर दर्ज हो गई है। भाजपा के मंडल महामंत्री राजेश मकड़ौली और इतिहास संकलन प्रकोष्ठ के जिला संयोजक दिनेश शखावत समेत 9 लोगों पर एफआईआर हुई है।

जीआरपी पुलिस ने फिलहाल दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन भाजपा नेता शहर में होने के बावजूद गिरफ्तार नहीं हो पाये हैं। इनेलो कार्यकर्ता ललिता की 5 अप्रैल ने रेल से टकराकर आत्महत्या कर ली थी। मृतका की मां की शिकायत पर भाजपा नेताओं पर एफआईआर हुई है।

इनेलो की महिला कार्यकर्ता, जिसे लगातार परेशान किया जाता रहा, बेटियों की जिंदगी खराब करने की धमकियां दी जाती रही। उस महिला ने परेशान होकर रेल से टकराकर अपनी जिंदगी खत्म कर ली।

बहादुरगढ़ के विकास नगर की रहने वाली ललिता अब इस दुनिया में नहीं है। ललिता इनेलो की कार्यकर्ता थी। लाईनपार के वार्ड नम्बर 2 में अपनी दो बेटियों और पति के साथ रहती थी। पड़ोस के कुछ लोग और भाजपा नेता राजेश मकड़ौली उसे बेटियों की जिंदगी खराब करने के नाम पर परेशान करते थे। सरकार का डर भी दिखाया जाता था। कई बार पुलिस को शिकायत की, लेकिन हर बार डर और दबाव में समझौता करवा दिया जाता। आखिरकार हारकर उसने अपनी जीवन लीला खत्म कर ली।

मानसिक प्रताड़ना और बेटियों की जिंदगी खराब करने की शिकायत मृतका ने 18 फरवरी को लाईनपार थाना पुलिस को दी थी। लेकिन उस वक्त नरेन्द्र एएसआई ने समझौता करवा दिया। उस समझौते में भी ललिता ने राजेश मकड़ौली समेत 6 लोगों का नाम लिखकर लिखा है कि अगर उसके या उसकी बेटियों और पति को कुछ भी होता है, तो इसका दोषी मानकर इन पर कार्यवाही की जाये।

मृतका की मां राजो ने जीआरपी थाना पुलिस को शिकायत देकर भाजपा नेता राजेष मकड़ौली, दिनेश शेखावत, पवन, बिल्लू, धर्मपाल प्रोपर्टी डीलर, सतीश,महेन्द्र,पवन और पार्षद मूर्ति के लड़के काली के खिलाफ आत्महत्या को उकसाने की एफआईआर दर्ज करवाई है। मृतका की मां का आरोप है कि उसकी बेटी को आरोपियों ने बहुत परेशान कर रखा था। उसकी इज्जत खराब करने की कोशिश की जा रही थी।

मृतक ललिता राजनीति के साथ सामाजिक कार्यो में भी लगातार सक्रिय रहती थी। जीआरपी पुलिस ने सतीश पंडित और पवन को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि भाजपा नेताओं समेत सात आरोपियों की गिरफ्तारी अभी बाकि है। जीआरपी थाना प्रभारी जयपाल का कहना है कि जल्द ही बाकि आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

मृतक ललिता के माता पिता वार्ड नम्बर 1 में रहते हैं और वो खुद अपने परिवार के साथ वार्ड नम्बर 2 में रह रही थी।  मृतका के पति दिल्ली में एक कॉरियर कम्पनी में काम करते थे। रात करीब 1 बजे वो घर से निकलकर बराही फाटक के पास पहुंची और वहीं पर रेल से टकराकर उसने आत्महत्या कर ली थी। परिजनों की शिनाख्त और बयान के बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 306 और 34 के तहत मामला दर्ज किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *