खुद को बताते थे ड्रग इंस्पेक्टर, फिर मेडिकल स्टोर वालों से ऐठंते थे पैसे

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष
Dinesh Kumar, Yuva Haryana
Faridabad, 18 May, 2019
फरीदाबाद के सेक्टर-3 में मेडिकल स्टोरों से चंडीगढ़ स्वास्थ्य विभाग की टीम बताकर अवैध वसूली करने वाले फर्जी ड्रग इंस्पेक्टर सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। मुख्य सरगना अभी फरार है। पुलिस ने पांचों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। शनिवार को आरोपितों को अदालत में पेश किया जाएगा।
शहर में मेडिकल स्टोर मालिकों से चंडीगढ़ स्वास्थ्य विभाग की टीम बताकर अवैध वसूली करने वाले फर्जी ड्रग इंस्पेक्टर व उनकी टीम की शिकायत पुलिस को मिल रही थी। मेडिकल स्टोर मालिक भी ऐसे लोगों से खासे परेशान थे। बृहस्पतिवार को चंडीगढ़ स्वास्थ्य विभाग का फर्जी ड्रग इंस्पेक्टर छह लोगों के साथ एक मेडिकल स्टोर की जांच करने पहुंच गए। इस दौरान उन्होंने तीन मेडिकल स्टोर पर जांच की। जांच के दौरान एक मेडिकल स्टोर के मालिक से जांच के दौरान अनियमितताओं की बात कही और इसके बदले 10 हजार रुपये की मांग की। मालिक ने नकदी देने की बात मान ली।
इसके बाद शक होने पर उन्होंने पुलिस को फोन कर दिया। सूचना मिलने पर चावला कॉलोनी पुलिस चौकी प्रभारी बलवीर टीम के साथ मौके पर पहुंचे और उन्हें दबोच लिया। पुलिस के कब्जे से एक आरोपित जो मुख्य सरगना है भागने में सफल हो गया। मेडिकल स्टोरों से अवैध वसूली करने वालों में सेक्टर-8 ईएसआई अस्पताल में कार्यरत फार्मासिस्ट दीपक त्रिपाठी, विभिन्न क्षेत्रों के मेडिकल स्टोर संचालक प्रदीप, आजाद कुमार, पत्रकार बनकर साथ चलने वालों की पहचान अजीत राज व इंद्रजीत हैं। मुख्य सरगना वेदप्रकाश अभी फरार है। उसे भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *