रोहतक पीजीआई से चुराया था बच्चा, अब 5 दिन के पुलिस रिमांड पर आरोपी महिला

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Deepak Khokhar, Yuva Haryana

Rohtak, 22 Feb, 2019

पीजीआई से बच्ची को चुराने वाली महिला को पुलिस ने 5 दिन के रिमांड पर लिया है। पुलिस ने आरोपी महिला को सोनीपत से गिरफ्तार किया था। जबकि बच्ची को सकुशल बरामद कर परिजनों को सौंप दिया गया है। हालांकि महिला बार-बार अपने बयान बदल रही है। इसलिए रिमांड के दौरान पुलिस सच्चाई की तह तक जाने का प्रयास करेगी। 
सोनीपत के गोहाना की मनीषा को गर्भवती अवस्था मंे 17 फरवरी को पीजीआई के वार्ड नंबर 2 में दाखिल कराया गया था। 20 फरवरी को उसने एक बच्ची को जन्म दिया। 21 फरवरी को वह अपनी ननद रिंकल को लेकर नवजात बच्ची को इंजेक्शन लगवाने जा रही थी। इसी दौरान मदद के नाम पर एक महिला बच्ची को लेकर फरार हो गई। हालांकि वह महिला सीसीटीवी में कैद हो गई और उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गई। डीएसपी मोहम्मद जमाल की अगुवाई में पुलिस की कई टीमों का गठन किया गया। 
सोशल मीडिया पर वायरल हुई फोटो के जरिए ही सोनीपत की सिक्का कालोनी पुलिस चौकी ने एक संदिग्ध महिला को नवजात बच्ची सहित काबू किया। पकड़े जाने पर महिला ने पुलिस को अलग ही बयान दिया कि बाइक सवार अज्ञात युवक उसके बच्चे को ले गए और उसे बच्ची थमा गए। सोनीपत पुलिस ने रोहतक पुलिस को इस बारे में जानकारी दी और महिला की शिनाख्त कराई गई। जिससे साबित हो गया कि इसी महिला ने बच्ची को चुराया है। पूछताछ करने पर महिला की पहचान सोनीपत के राठधाना निवासी महक उर्फ ममता के रूप में हुई। इसके बाद रोहतक पुलिस सोनीपत पहुंची और महिला को गिरफ्तार कर लिया। एसपी जशनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि आरोपी महिला ने दूसरी शादी कर रखी है और वह करीब 3 साल पहले पीजीआई में ही चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के तौर पर काम करती थी।  पुलिस को दिए बयान में महिला ने बताया कि उसने 31 दिसंबर 2018 को एक बच्चे को जन्म दिया था और वह बच्चा अभी भी बीमारी की हालत में पीजीआई मंे दाखिल है। उधर, पुलिस ने बच्ची को परिजनों के हवाले कर दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *