घग्गर में पानी बढ़ने से बाढ़ का खतरा मंडराया, किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Suren Sawant, Yuva Haryana
Sirsa, 26 Sept, 2018

मानसून खत्म होने के बाद हिमाचल पंजाब व हरियाणा में हुई भारी बारिश से घग्गर पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है पहाड़ी इलाकों में हुई भारी बारिश से घग्गर नदी हरियाणा के पिछले इलाकों में उफान पर है और पंजाब व हरियाणा में घग्घर के आसपास के इलाकों को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

पिछले 2 दिन के अंदर घर घर में 700 क्यूसिक से 2500 पानी हो गया है जिसके कारण निकटवर्ती क्षेत्र के लोगों को 2010 का मंजर याद आने लगा है। अगर घग्गर के अंदर इसी तरह पानी बढ़ता रहा तो 2 दिन के पश्चात घग्गर के आसपास हजारों एकड़ फसल में पानी आ जाएगा और फसल बर्बाद हो सकती है हालांकि प्रशासन दावा क्र रहा है कि वो घग्गर पर पानी को कंट्रोल करने में लगा हुआ है।

अगर बात करे नहरी विभाग की तो जब बाढ़ का खतरा बढ़ जाता है तो वो आनन फानन में सुरक्षा में लग जाता है लेकिन घग्गर की सफाई मात्र कागजो तक ही सिमट कर रह जाती है।

वहीं इसपर किसानों ने अपना दर्द बताते हुए कहा कि उन्हें बाढ़ आने की चिंता सत्ता रही है लेकिन प्रशासन ने कोई भी इंतजाम नहीं किये है। न तो घग्गर की सफाई करवाई गई और न ही किनारों पर उगे झाड़ियां कटी गई है। जैसा की सुनने में आ रहा है कि पानी दिनोदिन बढ़ता जा रहा है तो वो अपने स्तर पर इसका ध्यान कर रहे है और ग्रामीण मिलजुल कर इसपर 24 घंटो निगह रखे हुए है।

वहीं जब इसबारे में नहरी विभाग के जेई से बात की गयी तो उन्होंने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने का दावा किया।

अभी तक कहा कितना पानी —-

गुहलाचीका हेड : 33100 क्यूसेक

खनौरी हेड : 14500 क्यूसेक

चांदपुर हेड : 5370 क्यूसेक

ओटू हैड : 1000 क्यूसेक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *