पूर्व शिक्षा मंत्री गीता भुक्कल ने कृषि मंत्री ओपी धनखड़ पर लगाए झज्जर के साथ भेदभाव करने के आरोप

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Pradeep Dhankhar, Yuva Haryana

Jhajjar, 19 Feb, 2019

झज्जर की विधायक और पूर्व शिक्षा मंत्री गीता भुक्कल ने कृषि मंत्री ओपी धनखड़ पर झज्जर हल्के के साथ भेदभाव करने के आरोप लगाए हैं। अपने निवास पर पत्रकारों से बात करते हुए भुक्कल ने कहा है कि आज तक झज्जर नगरपालिका का भवन कांग्रेस सरकार द्वारा बनवाये गए सामुदायिक केंद्र में चल रहा है।

इस सरकार से नगरपालिका के लिए एक भवन तक नहीं बनवाया जा सका। भुक्कल ने कहा कि हमने पालिका को करोड़ों रुपये दिए मगर भाजपा सरकार ने पालिका की स्तिथि खराब कर दी। उन्होंने ओपी धनखड़ पर वार करते हुए कहा कि वे झज्जर के साथ सौतेला व्यवहार कर रहे हैं। झज्जर के सरपंच विकास के लिए ग्रांट न मिलने का रोना रो रहे हैं। ऐसा लगता है ओपी धनखड़ को सरकार ने बादली का ही मंत्री बनाया है।

प्रदेश अध्यक्ष बनाना हमारा आंतरिक मामला

गीता भुक्कल का कहना है कि हरियाणा का प्रदेश अध्यक्ष बदला जाए या न बदला जाए ये उनकी पार्टी का मामला है। उन्होंने कहा कि अब चुनाव का वक़्त है और वे सब चुनाव पर ध्यान दे रहे हैं। इन बातों की चर्चा अब नही की जानी चाहिए। हालांकि उन्होंने माना कि कांग्रेस अध्यक्ष प्रदेश में जिला व ब्लॉक अध्यक्ष नहीं बना पाए।

पुलवामा घटना ने देश को हिला दिया

पूर्व मंत्री भुक्कल ने कहा पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सैनिकों को नमन करते हुए इस घटना को देश हिलाने वाली घटना करार दिया। उन्होंने कहा कि देश के सभी राजनीतिक दलों को एकजुट रहकर पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देना चाहिए।

वर्तमान सरकार जुमलेबाज़ सरकार

झज्जर विधायक ने वर्तमान प्रदेश सरकार को जुमलेबाज़ सरकार दिया और कहा कि ये सरकार कांग्रेस के प्रोजेक्ट्स का फीता काटने के अलावा कोई दूसरा काम नहीं कर रही। उन्होंने कहा कि छुछकवास बाईपास की वजह से रोज दुर्घटना हो रही हैं, लेकिन सरकार का ध्यान नहीं है। कोई नया प्रोजेक्ट झज्जर के लिए नहीं आया।

जबकि उनकी सरकार में सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने झज्जर की कायाकल्प कर दी थी। झज्जर के अलावा सारे हरियाणा का विकास किया गया था। उन्होंने कहा कि झज्जर के साथ किये जा रहे सौतेले व्यवहार का हिसाब वे विधानसभा में सरकार से मांगेंगी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *