गन्नौर में इनेलो को बड़ा झटका, 2009 में इनेलो के प्रत्याशी कृष्ण गोपाल त्यागी ने छोडी पार्टी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Dalbir Rathi, Yuva Haryana

Gannaur, 3 Dec, 2018

सोमवार को इंडियन नेशनल लोकदल को एक ओर जबरदस्त झटका लगा है। गन्नौर विधानसभा से इनेलो के साल 2009 में प्रत्याशी रहे कृष्ण गोपाल त्यागी ने आज अपने सैकड़ों साथियों के साथ इनेलो को छोड़कर दुष्यंत चौटाला के साथ जाने का फैसला किया है।

आज अपने निवास पर कार्यकर्ताओं के साथ दुष्यंत की मौजूदगी में इनेलो छोड़कर दुष्यंत के साथ जाने का फैसला लिया है। अब गन्नौर में इनेलो के साथ एक आध को छोड़कर कोई भी पुराना वर्कर नहीं रहा है।

दुष्यंत को पार्टी से निकालने के बाद भारी संख्या में कार्यकर्ता सियानंद त्यागी के नेतृत्व में पहले ही अलविदा कह चुके हैं। इस अवसर पर पूर्व विधायक पदम सिंह दहिया,पूर्व हलका प्रधान भाने राम,पूर्व जिला पार्षद व वरिष्ठ नेता सियानंद त्यागी,सुधीर धनखड़,अनुपम रापरिया,सरोज बैनीवाल सहित भारी संख्या मेंं कार्यकर्ता मौजूद रहें।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आगामी नौ दिसंबर को जींद की पावन धरा पर स्व.चौधरी देवीलाल की विचार धारा का एक ऐसा संगठन खड़ा किया जाएगा, जो 1987 जैसा सत्ता परिवर्तन प्रदेश में लेकर आएगा। सांसद ने कहा कि अभी तो हमारा संगठन खड़ा भी नहीं हुआ है लेकिन कुछ लोग उनके संगठन से पहले ही घबरा कर उल्टा सीधा बोल रहें है।

दुष्यंत ने कहा कि आज उनके साथ चौधरी देवीलाल की विचार धारा के लोग जुड़ रहे हैं, वो चाहे किसी भी दल में किसी कारण चले गए थे। सांसद ने कहा कि ये ऐसा मंच होगा जिसमें कोई जात-पात नहीं होगी और न ही कोई मजहब होगा।

इसमें गरीब,मजदूर,किसान,कर्मचारी,छोटा दुकानदार व महिलाएं शामिल होंगी। सांसद ने लोगों को जींद रैली का न्यौता देते हुए कहा कि इसमें इतनी भारी संख्या में पहुंचे की कांग्रेस,भाजपा व दूसरे अन्य दलों के लोग भी नए संगठन के बारे में सोचने को मजबूर हो जाएं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *