शोरूम गिराने गए टाउन एंड कंट्री प्लानिंग के एटीपी, पूर्व मेयर भूपेंद्र ने गले से पकड़कर घसीटा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Rakesh Bhayana, Yuva Haryana, Panipat

पानीपत के सनौली रोड पर 3 मार्बल शोरूम पर कार्रवाई करने गए टाउन एंड कंट्री प्लानिंग के एटीपी को भाजपा नेता व पूर्व मेयर भूपेंद्र ने गले से पकड़कर घसीट लिया। भूपेंद्र को ऐसा करते देख आसपास खड़ी भीड़ के भी हौंसले बुलंद हो गए और उन्होंने असिस्टेंट टाउन प्लानर (एटीपी) के साथ मारपीट की। वहीं, मौके पर बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट गए तहसीलदार अनिल कौशिक और जेई मनींद्र के साथ भी लोगों ने धक्का-मुक्की की। बाद में इन्हीं नेताओं ने ही मामले को शांत कराया।

पानीपत के सनौली रोड पर छौक्कर पेट्रोल पंप के पास बने 3 मार्बल शोरूम की बिल्डिंग नियमों के मुताबिक नहीं बनी हुई है। टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने शोरूम मालिकों को अप्रैल 2019 को नोटिस दिया था। इन्होंने नोटिस के मुताबिक अनुपालना नहीं की तो गुरुवार को असिस्टेंट टाउन प्लानर नवीन, ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार अनिल कौशिक, जेई मनींद्र और पुलिस टीम कार्रवाई करने पहुंच गई।

एटीपी के साथ गई पुलिस टीम कुछ पीछे रह गई थी। वे पहले शोरूम पर पहुंच गए थे। इस दौरान पहले से ही लोगों की भीड़ मौजूद थी। इस दौरान पूर्व मेयर और भाजपा नेता भूपेंद्र वहीं मौजूद थे। उन्होंने एटीपी नवीन का गला पकड़ा और उन्हें घसीटते हुए ले गए। ये देख लोगों की भीड़ ने नवीन को घेर लिया और मारपीट करनी शुरू कर दी। भीड़ ने तहसीलदार अनिल कौशिक व मनींद्र को भी घेर लिया। उनके साथ भी धक्का-मुक्की हुई। इसके बाद कुछ लोगों ने मामला शांत करा दिया। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस सभी को चांदनी बाग थाने में ले गई। वहां भी इनके बीच काफी बहसबाजी हुई।

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के निदेशक ने इस घटना पर कार्रवाई करने के लिए डीटीपी को लिखा है। वहीं व्यापारियों ने जेई मनिंद्र के खिलाफ पैसे मांगने की शिकायत की है। वहीं विभाग भी एफआईआर दर्ज करवाने की तैयारी कर रहा है।

ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त हुए अनिल कौशिक ने कहा कि जिला टाउन प्लानर के कर्मचारियों यहां अवैध इमारत को गिराने आए थे लेकिन लोगों के विरोध के कारण हम वापिस जा रहे हैं लेकिन धक्का-मुक्की और थप्पड़ की बात से इनकार किया।

पूर्व मेयर भूपेंद्र पानीपत की मौजूदा मेयर अवनीत कौर के पिता हैं। वे भी पहले पानीपत के मेयर रह चुके हैं। हालांकि वे अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए थे, बीच में ही इस्तीफा देना पड़ा था। इस बार के निगम चुनाव में उन्होंने अपनी बेटी को भाजपा की सीट पर चुनाव में उतारा था और अवनीत कौर ने रिकॉर्ड मतों से जीत हासिल की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *