आर.टी.ए. सहायक सचिव, क्लर्क व दो प्राईवेट व्यक्ति गिरफ्तार, अवैध वसूली के साढ़े 63 लाख रुपये बरामद

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana
Chandigarh, 18 May, 2019

रोहतक व साथ लगते जिलों में ओवरलोड गाड़ियों के चालक/मालिकों को चालान का भय दिखाकर अवैध रूप से वसूली की जा रही थी। अवैध वसूली का धंधे क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण के कर्मचारियों की मिलीभगत से चल रहा था। मामला पुलिस अधीक्षक रोहतक जशनदीप सिंह रंधावा के संज्ञान में आते ही उन्होंने तुरंत उप पुलिस अधीक्षक सांपला नरेन्द्र कादियान के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया तथा अवैध धंधे का पर्दाफाश करते हुए आरोपियो के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही के दिशा-निर्देश दिए गए। रोहतक पुलिस ने तुरंत कार्यवाही करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। आरोपियो को आज पेश अदालत किया गया है। अदालत के आदेश पर आरोपियो को 2 दिन के पुलिस रिमांड पर हासिल किया गया है। मामलें की गहनता से जांच जारी है।

उप पुलिस अधीक्षक सांपला नरेन्द्र कादियान ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि डस्ट, रेती, रोडी आदि की ओवरलोड गाडियों को चालान का भय दिखाकर वाहन चालक/मालिक से अवैध रूप से वसूली की जाती है। ओवरलोड गाड़ियो को बिना चालान के जिला दादरी, नारनौल, झज्जर, रोहतक भिवानी व सोनीपत के क्षेत्र से पार करवाया जा रहा है। इस अवैध धंधे में प्राईवेट व्यक्तियों के साथ-2 क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण विभाग के कर्मचारी भी शामिल है। अवैध धंधा का पर्दाफाश करने के लिए सीआईए-2 व साईबर सेल की विशेष टीम का गठन किया गया जिसमें सीआईए-2 से स.उप.नि. सतीश कुमार, मुख्य सिपाही देवेन्द्र, सिपाही संदीप, हरदीप व प्रदीप तथा साईबार सेल प्रभारी प्रवीन कुमार व सहायक संजय कुमार को शामिल किया गया। विशेष टीम ने दिनांक 17.05.19 को सूचना के आधार पर कार्यवाही करते हुए छोटूराम पार्क सांपला से दो गाड़ियों सहित दो व्यक्तियों को काबू किया है।

टस्कन गाड़ी नम्बर HR-19N-2021 में बैठे व्यक्ति की पहचान रविन्द्र उर्फ काला पुत्र नफे सिंह निवासी गांव खरमाणा, बहादुरगढ़ के रुप में हुई है। तलाशी लेने पर आरोपी से साढ़े 12 लाख रुपये बरामद हुए है। क्रेटा गाड़ी नम्बर HR-12AB-1500 में बैठे व्यक्ति की पहचान सुरेन्द्र राठी पुत्र श्रीभगवान निवासी डेयरी मोहल्ली के रुप में हुई है। तलाशी लेने पर आरोपी से एक लाख रुपये बरामद हुए है। आरोपियो के खिलाफ थाना सांपला में भारतीय दंड संहिता की धारा 384 व भ्रष्टाचार निवारण अधिनिमय, 1988 की धारा 7,8,9 व 13 के तहत अभियोग संख्या 230/19 अंकित करके गिरफ्तार किया गया है।

प्रारंभिक जांच में सामने आया कि दादरी व नारनौल से डस्ट, रेती, रोडी आदि के ओवर लोडिंग वाहन हरियाणा के अलग-2 हिस्सो के लिए चलते है। डस्ट, रेती, रोडी आदि लेकर चलने वाले सभी गाडियों, चालकों व मालिकों की डिटेल आरोपियों के पास होती है। वे चालकों व मालिकों से संपर्क करते है। चालकों व मालिकों से जिला दादरी, नारनौल, झज्जर, रोहतक, भिवानी व सोनीपत में ओवरलोड गाडियों को चालान का भय दिखाकर अवैध रुप से वसूली की जाती है। अवैध वसूली के धंधे में क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकारी के कर्मचारी भी शामिल है। अवैध वसूली का बड़ा हिस्सा आर.टी.ए. स्टाफ को जाता है। आरोपियो ने पुछताछ पर बताया कि जिला दादरी के आर.टी.ए. सहायक सचिव मनीष मदान व क्लर्क अमित इस अवैध वसूली में शामिल है। आरोपी अवैध रुप से वसूली गई राशी का 10% अपने पास रखते है तथा बाकी का 90% हिस्सा उन्हे देते है। आरोपी सुरेन्द्र व रविन्द्र दिनांक 17.05.19 को अवैध वसूली के 12 लाख रुपये मनीष मदान व 8 लाख रुपये अमित को देकर आए है।

विशेष टीम ने तुरंत छापेमारी करते हुए दादरी से सहायक सचिव आर.टी.ए. विभाग मनीष मदान व आर.टी.ए. विभाग में क्लर्क अमित को गिरफ्तार किया है। आरोपी मनीष मदान के पास जिला दादरी व महेन्द्रगढ़ का प्रभार है। आरोपी अमित दादरी में तैनात है। दोनो आरोपी दादरी में किराये के मकान में रह रहे है। तलाशी लेने पर मकान से अवैध रूप से वसूले गए 50 लाख रुपये बरामद हुए है। अवैध वसूली का धंधा कई जिलों तक फैला हुआ है जिसमें प्राईवेट व्यक्तियो के साथ-2 सरकारी कर्मचारी भी शामिल है। अवैध धंधे में शामिल अन्य आरोपियों के बारे में गहनता से जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *