आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनवाने का चल रहा है बड़ा खेल, पढ़िए पूरी खबर

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 9 Dec, 2018

आयुष्मान योजना में पंजीकरण करने को लेकर लोगों को भ्रमित किया जा रहा है और गोल्डन कार्ड बनवाने के नाम पर बड़े पैमाने में ऑनलाइन खेल चलया जा रहा है। यहां तक की कुछ साइट्स ने तो अंतिम तिथि भी दिखा दी है, जबकि सरकार की तरफ से अभी कोई अंतिम तिथि नहीं बताई गई है।

कई सारी वेबसाइट्स लोगों का डाटा एकत्र कर रही है। इसी के चलते राष्ट्रीय स्वास्थ्य एजेंसी ने एक एडवाइजरी भी जारी कर दी है। इस एडवाइजरी में 130 से ज्यादा साइट्स और एप पर लोगों को रजिस्ट्रेशन न करने की सलाह दी गई है।

आयुष्मान भारत योजना के जिला सूचना अधिकारी उज्वल वर्मा ने बताया कि https://mera.pmjay.gov.in/search/login इस लिंक पर जाकर कोई भी व्यक्ति जान सकता है कि गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए सूचि में उसका नाम है या नहीं। बस इसके लिए साइट पर जाकर मोबाइल नंबर डालना होगा।

OTP नंबर आने के बाद नाम या फिर राशन कार्ड के नंबर से सर्च कर सकते हैं। यह सब भरने के बाद सूचि में नाम आने की जानकारी आ जाएगी। इसके बाद एक 24 डिजिट का नंबर आएगा, जिसे आयुष्मान मित्र को दिखाना होगा और गोल्डन कार्ड बन सकेगा।

बता दें कि 70 हजार परिवारों के साढ़े तीन लाख से ज्यादा लोग इस योजना में आए हैं और इन सभी लोगों के गोल्डन कार्ड जिला सिविल अस्पताल में बनाया जा रहा है। इसके साथ ही कई निजी अस्पताल भी आयुष्मान मित्र गोल्डन कार्ड बना रहे हैं। अटल सेवा केंद्रों में भी जाकर यह कार्ड बनवाया जा सकता है। जिसके लिए किसी भी तरह के पंजीकरण की कोई जरूरत नहीं होगी।

निवेदन किया गया है कि गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए ऐसी किसी भी साइट पर जाकर अपनी जानकारी ना सांझा करें। यह सुरक्षित नहीं है। पहले पूरे तरीके से जांच कर लें कि यह साइट सही है या नहीं, तभी पंजीकरण करने के लिए अपनी निजी जानकारी डालें।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *