महिला हेड कॉन्स्टेबल के साथ गैंगरेप, आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा

Yuva Haryana News

पलवल महिला थाने में हैड कांस्टेबल के पद कार्यरत महिला पुलिस कर्मी के साथ चाकू के बल पर गैंगरेप, मारपीट करने व जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है।

पीडि़ता पुलिसकर्मी को आरोपी पिछले चार वर्ष से अपनी हवस का शिकार बनाता आ रहा है और आरोपी के सगे संबंधी मामले को दबाने को लेकर पीड़िता पर लगातार दबाव बनाते रहे।

महिला थाना प्रभारी कमला देवी के अनुसार उनके थाने में हैड कांस्टेबल के पद कार्यरत 32 वर्षीय महिला पुलिस कर्मी ने शिकायत दर्ज कराई है कि वर्ष 2014 में उसकी ड्यूटी महेंद्रगढ़ जिले के नारनौल में थी। बस में आते-जाते समय पीडिता की जान-पहचान पलवल के गांव अलावलपुर निवासी जोगेंद्र उर्फ मिंटू से हो गई।

पीडि़ता का आरोप है कि गत 15 जून वर्ष 2014 को जोगेंद्र ने उसके साथ दुष्कर्म किया था और किसी को बताने पर जान से मारने व समाज में बदनाम करने की धमकी दी। जिसके कुछ वर्ष बाद पीडि़ता का तबादला पलवल के महिला थाने में हो गया और पिड़िता पलवल की एक कालोनी में किराये पर रहने लगी यहां पर भी पीडि़ता महिला पुलिसकर्मी को आरोपी अपनी हवस का शिकार बनाता रहा। एक दिन आरोपी के भाई तोशराज ने भी चाकू के बल पर पीडि़ता को अपनी हवस का शिकार बनाया। पीडि़ता ने जब विरोध करना चाहा तो आरोपी व उनके सगे संबंधी बहन प्रीति, जीजा पप्पू व एक साथी नरेंद्र ने उसके साथ मारपीट की और जान से मारने की धमकी दी।

आरोपियों के गुनाहो से तंग आकर पीडि़ता ने मामले की शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत के आधार पर उसका मैडिक़ल कराया और दुष्कर्म की पुष्टि होने के बाद आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी है। लेकिन अभी तक पुलिस किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नही कर पाई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *