कुख्यात गैंगस्टर अनिल छिपी कारोर की गैंग का शार्प शूटर गिफ्तार, छह हत्याओं का है आरोप

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Pradeep Dhankar, Yuva Haryana
Bahadurgarh, 19 Oct, 2018

प्रदेश में लगातार बढ़ रहे अपराध पर नियंत्रण रखने के लिए बनाई गई स्पेशल टास्क फोर्स को एक और बड़ी कामयाबी मिली है। एसटीएफ ने बहादुरगढ़ में 75 हजार रुपये के इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया है। आरोपी पर 6 लोगों की हत्या, एक हत्या के प्रयास, तीन वाहनों की लूट और एक पैसे लूटने की वारदात को अंजाम देने का आरोप है।

आरोपी रोहतक के कारोर गांव निवासी गैंगस्टर अनिल छिपी की गैंग का शार्प शूटर है। आरोपी की पहचान  दिल्ली के  गंगापुर  निवासी  अमिताभ  और मन्नू के रूप में  हुई है। अमिताभ  ने 2007  में अपराध की दुनिया  में कदम रखा था। पहली बार 2007 में  उसने  रोहतक के कारोर गांव निवासी  गैंगस्टर अनिल छिपी के साथ मिलकर  पैसे लूटने की वारदात को अंजाम दिया था।  जिसके बाद  वह एक के बाद एक  बड़ी वारदातों को अंजाम देता चला गया।

वह अनिल छिपी गैंग  का शार्प शूटर है। डीएसपी कप्तान सिंह ने बताया कि आरोपी  अमिताभ उर्फ़ मन्नू की मुलाकात  गैंगस्टर अनिल छिपी से उस वक्त हुई थी जब वह दिल्ली में प्राइवेट बस में कंडक्टर का काम करता था  और गांव में हुई गैंगवार के बाद  अपना गैंग  खड़ा करने के लिए उसने अमिताभ से संपर्क किया था। आरोपी ने वर्ष 2009 में यूपी के बड़ौत में अपने दोस्त की मामी को गोली मारकर मौत के घाट उतारा था। मई 2010 में अमिताभ ने रोहतक बाईपास पर गैंगवार के चलते दोहरे हत्याकांड की वारदात को अंजाम दिया था।

मार्च 2012 में अमिताभ ने झज्जर के दुलीना के पास भोंडसी जेल से गुरुग्राम के लिए जा रही पुलिस की गाड़ी पर भी हमला किया था। इस हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हुए थे और तीन कैदियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। आरोपी पर एक ट्रक और दो मोटरसाइकिल लूटने का भी आरोप है। कुल मिलाकर अमिताभ और मन्नू नाम का यह बदमाश 6 लोगों की हत्या कर चुका है और इस पर दिल्ली में एक व्यक्ति पर जानलेवा हमला करने का भी आरोप है।

आरोपी पिछले 9 साल से फरार चल रहा था और यह पहली बार है कि अमिताभ पुलिस के हत्थे चढ़ा है। वह अब तक पुलिस की आंखों में धूल झोंकता आ रहा था। लेकिन एसटीएफ के काबिल अफसरों की समझदारी के चलते पुलिस की गिरफ्त में आ पहुंचा है। डीएसपी कप्तान सिंह ने बताया कि आरोपी के कब्जे से एक देसी पिस्तौल और जिंदा कारतूस भी बरामद किए गए हैं। अमिताभ को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। डीएसपी कप्तान सिंह ने बताया कि पुलिस जल्द ही उसके अन्य साथियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजने का काम करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *