हरियाणा और यूपी पुलिस ने रखा था 75 हजार का इनाम, हरियाणा पुलिस ने गैंगस्टर को दबोचा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Sanjeev Ghanghash, Sonipat

पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने समस्त हरियाणा पुलिस को मोस्ट वांटेड एवं बदमाशो की धर पकड़ के निर्देश दिये हुये है। इन्ही निर्देशो की पालना करते हुये सोनीपत जिले की सी0आई0ए0 स्टाफ ने यू0पी0 एवं सोनीपत पुलिस के 75 हजार रूपये के ईनामी मोस्ट वांटेड एंव शातिर बदमाश को अवैध हथियारो सहित गिरफतार किया है। गिरफतार आरोपी नितिन निवासी धोबीवाडा जटवाडा शहर सोनीपत का रहने वाला है।

हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि सी0आई0ए0 की टीम अपराधियो एवं असामाजिक तत्वो की खोज मे महाराजा अग्रसेन चैक सोनीपत की सीमा मे मौजूद थी कि इन्हे अपने विश्वस्त सूत्रो से पता चला कि 75 हजार रूपये का ईनामी मोस्ट वांटेड एंव शातिर बदमाश नितिन अवैध हथियारो सहित किसी अपराधिक घटना को अन्जाम देने की फिराक मे घूम रहा है। इस सूचना पर पुलिस टीम द्वारा अविलम्ब कार्यवाही करते हुये उक्त बदमाश को धर दबोचा। तलाशी लेने पर इसके कब्जा से एक अवैध देसी पिस्तौल व एक जिन्दा कारतूस मिला। गिरफतार आरोपी के विरूद्ध शस्त्र अधिनियम के अन्तर्गत थाना सिविल लाईन सोनीपत में अभियोग दर्ज किया गया।
आरोपी नितिन की वारदात
1. वर्ष 2019 मे गर्मी के दिनो मे मैने तथा विशाल उर्फ गोलू निवासी राजपुर, दीपक(सुल्तान निवासी बिधल के  साथ मेरी जानकारी हुई थी) सुल्तान निवासी बिधल, सुधीर निवासी खरखौदा नजदीक सरकारी अस्पताल ने मिलकर दो मोटरसाईकलो पर सवार होकर दिल्ली से पानीपत रोड पर बने शिव गंगा ढाबा पर गये थे वहां पर हवाई फायर किये थे क्योकि सुधीर वा ढाबा मालिक की अपास मे दुश्मनी थी। विशाल, दीपक सुधीर, सुल्तान की गिरफतारी हो चुकी।
2. वर्ष 2019 में सितम्बर माह मे मैने तथा अजय निवासी चैलका, ने मिलकर अजय की स्पलैण्डर मोटरसाईकिल पर सवार होकर रात के समय दीपक निवासी भाटान मोहल्ला सोनीपत की गोली मारकर हत्या की थी। वकील के भाई दीपक की हत्या इसलिये की थी क्योकि दीपक हमारे रास्ते से अपनी मोटरसाईकिल नही हटा रहा था। वारदात के समय हमारे दोनो के पास पिस्तौल थी। अजय निवासी चैलका की गिरफतारी हो चुकी है।
3. वर्ष 2019 में मेरे वा जितेन्द्र निवासी सूप छपरौली के खिलाफ बैक लूट का मुकदमा दर्ज हुआ था जिसमें जितेन्द्र की गिरफतारी हो चुकी है। (मेरी गिरफतारी बकाया है।) उपरोक्त वारदात के सम्बंध मे अभियोग संख्या-298/19 धारा 394,411,342 भा0द0स0 थाना छपरौली जिला बागपत यू0पी0 अंकित है तथा यू0पी0 पुलिस द्वारा 25 हजार रूपये का ईनाम घोषित है।
4. वर्ष 2019 माह दिसम्बर में मैने तथा विरेन्द्र पुत्र सतपाल भैसवाल कंला, अजय, छोटा अजय, रवि उर्फ झान्डू निवासी चैलका, योगेश उर्फ मोहित उर्फ बिहारी पुत्र सुभाष पुत्र गोपीराम निवासी भैसवाल कंला ने मिलकर अजय निवासी चैलका के जानकार की एसैन्ट हुंडई कार मे सवार होकर गांव मटिन्डू मे दो मोटरसाईकिल सवारो को पहले कार की टक्कर मारी उनके गिरने के बाद हमने उनमे से एक लडके को गोली मारी थी। उनको गोली इसलिये मारी थी क्योकि उनके साथ अजय निवासी चैलका की पुरानी दुश्मनी थी। विरेन्द्र पुत्र सतपाल भैसवाल कंला, अजय, छोटा अजय, रवि उर्फ झान्डू निवासी चैलका की गिरफतारी हो चुकी है। (मेरी गिरफतारी बकाया है।)
सहअपराधियों के अपराधो का विवरण।
1. लक्ष्य उर्फ मैन्टल पुत्र अशोक निवासी जटौला सोनीपत जेल में बन्द है।
2. गुलफाम पुत्र इकबाल निवासी नरेला दिल्ली कोई पता नही।
3. दीपक (सुल्तान निवासी बिधल के साथ मेरी जानकारी हुई थी)
4. सुधीर निवासी खरखौदा नजदीक सरकारी अस्पताल सोनीपत जेल में बन्द है।
5. विशाल उर्फ गोलू निवासी राजपूर सोनीपत जेल मे बन्द है।
6. अजय निवासी चैलका सोनीपत जेल मे बन्द है और अजय निवासी चैलका गुरूग्राम जेल मे बन्द है।
7. रवि उर्फ झान्डू सोनीपत जेल मे बन्द है।
8. विरेन्द्र पुत्र सतपाल निवासी भैसवाल कंला जिला जेल गुरूग्राम मे बन्द है।
9. सन्दीप निवासी थाना कंला हाल खरखौदा फरार है।

पूर्व का अपराधिक विवरणः-

वर्ष 2018 मई महिना मे मैने तथा लक्ष्य उर्फ मैन्टल निवासी जटौला, गुलफाम पुत्र इकबाल निवासी नरेला दिल्ली ने मिलकर कृपाल निवासी बसीही थाना खेखडा यू0पी0 का अपहरण किया था। इस घटना का थाना बागपत मे अभियोग दर्ज किया गया था। जो न्यायालय मे विचाराधीन है। गिरफतार आरोपी को न्यायालय मे पेशकर दो दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। मामले की गहनता से विवेचना जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *