गैस सिलेंडर उपभोक्ताओं के लिए खबर, गैस सिलेंडर पर होता है 50 लाख तक का बीमा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Chandigarh

गैस सिलेंडर gas cylinder फटने या लिकेज होनी की घटनाएं अक्सर होती रहती है, इससे काफी लोगों को नुकसान भी उठाना पड़ता है, लेकिन इसकी रोमांचक जानकारी यह है कि गैस सिलेंडर पर 50 लाख रुपये तक का बीमा होता है, जो कि पीड़ित उपभोक्ता को मिल सकता है। इसके लिए उपभोक्ता को मामूली सर्विस चार्ज देना पड़ता है।

गैस सिलेंडर उपभोक्ताओं को ज्यादातर इस योजना के बारे में जानकारी नहीं है। जानकारी के अभाव में काफी ज्यादा लोग इसका फायदा नहीं उठा पाते। गैस सिलेंडर उपभोक्ता दस फीसदी भी नहीं है जो कि बीमा का फायदा उठा रहे हैं। गैस सिलेंडर उपभोक्ता 236 रुपये का सर्विस चार्ज देकर बीमा स्कीम का फायदा उठा सकते हैं।

क्या है पूरी योजना ?

गैस सिलेंडर उपभोक्ताओं के लिए यह बीमा योजना होती है। इसमें उपभोक्ता को 236 रुपये सर्विस चार्ज देना पड़ता है, जिसके बाद 50 लाख तक का बीमा कवर होता है। यह पैसे पांच साल के लिए एकमुश्त भरने पड़ते हैं। इस बीमा योजना के बाद कंपनी के ही लोग गैस कनेक्शन की भी जांच करते हैं। गैस सिलेंडर से संबंधित किसी प्रकार की तकनीकी कमी को भी दूर करते हैं।

50 लाख तक की राशि का प्रावधान

इसके अलावा गैस सिलेंडर का जब कनेक्शन लेते हैं, उस वक्त ही लाख रुपये का उपभोक्ता का दुर्घटना बीमा हो जाता है, इसके तहत गैस सिलेंडर से हादसा होने पर पीड़ित बीमा क्लेम कर सकता है। सामूहिक दुर्घटना होने पर 50 लाख रुपये तक का का प्रावधान है। इसके लिए दुर्घटना के 24 घंटे के भीतर पुलिस थाने और गैस एंजेसी को इसकी सूचना देनी होती है। दुर्घटना में मौत होने पर मृत्यु प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाना होता है। जिसके बाद बीमा कंपनी गैस एंजेसी या फिर क्षेत्रीय कार्यालय को केस सौंप देती है।

क्या-क्या बरतें सावधानी ?

घर में इस्तेमाल होने वाला गैस कनेक्शन वैध होना चाहिए। साथ ही आइएसआइ मार्क वाले गैस चूल्हे का ही उपयोग हो। गैस कनेक्शन में एजेंसी से मिली पाइप-रेग्युलेटर ही इस्तेमाल हो। गैस इस्तेमाल की जगह पर बिजली का खुला तार न हो। चूल्हे का स्थान, सिलेंडर रखने के स्थान से ऊंचा हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *