अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव का आगाज, 11 दिनों तक देश-विदेश के कलाकार करेंगे अपनी कला का प्रदर्शन

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Darshan Kait, Yuva Haryana
Kurukshetra, 07 Dec, 2018
हरियाणा के पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि हरियाणा की पावन धरा कुरुक्षेत्र से एक बार फिर पवित्र ग्रन्थ गीता के उपदेश अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के माध्यम से पूरे विश्व में पहुंचेंगे। शर्मा कुरूक्षेत्र के ब्रहमसरोवर के पावन तट पर शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2018 के क्राफ्ट व सरस मेले का शुभारम्भ करने के उपरांत बोल रहे थे।
इससे पहले अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2018 के क्राफ्ट व सरस मेले का आगाज आचार्य नरेश कौशिक व 21 ब्राहमणों द्वारा किए गए मंत्रौच्चारण और शंख की सुरीली गूंज के साथ पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा, केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा ने किया। इस क्राफ्ट मेले में विभिन्न राज्यों की शिल्पकला को देखकर सभी मेहमान गदगद हो गए। पर्यटन मंत्री ने जैसे ही शिल्प व सरस मेले का शुभारम्भ किया, उसी समय 11 राज्यों के कलाकारों ने अपने-अपने प्रदेश के संगीत और वाद्य यंत्रों से निकली सुर और ताल ने ब्रहमसरोवर की फिजा ही बदल दी। 
पर्यटन मंत्री राम बिलास शर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि राज्य सरकार के प्रयासों से तीसरी बार गीता जयंती को अंतर्राष्ट्रीय महोत्सव के रुप में मनाया जा रहा है। इस महोत्सव के साथ हरियाणा का गौरव पूरे विश्व में बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि इस शिल्प मेले में विभिन्न राज्यों से शिल्पकार अपने-अपने प्रदेश की बेहद खुबसूरत शिल्पकला के साथ पहुंचे है।
इस शिल्पकला से ब्रहमसरोवर पर भारत की शिल्पकला को एक साथ देखा जा सकता है। इस प्रकार के सुनहरी अवसर राज्य सरकार के प्रयासों से ही देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों को मिल पाएंगे। उन्होंने कई शिल्पकारों से सीधा संवाद करते हुए शिल्पकला के बारे में जानकारी हासिल की और राज्य तथा प्रशासन की तरफ से उपलब्ध करवाई गई तमाम सुविधाओं के बारे में भी फीडबैक ली। इस मेले में आए सभी शिल्पकारों ने क्राफ्ट मेले की व्यवस्थाओं को खुब सराहा है। इन शिल्पकारों में करीब 91 राष्ट्रीय स्तर के शिल्पकार, संत कबीर आवार्ड और स्टेट आवार्डी शामिल है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *