हिसार के थुराना गांव के लेफ्टिनेंट जनरल डी पी वत्स जाएंगे हरियाणा से राज्यसभा, अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में हैं विभागाध्यक्ष

Breaking देश बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा

हरियाणा लोकसेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष लेफ्टिनेंट जनरल देवेंद्र पाल वत्स जल्द ही हरियाणा से राज्यसभा सदस्य बनेंगे। भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है। जनरल वत्स का चुना जाना तय है और उनका चुनाव निर्विरोध होने की उम्मीद है।
16 अप्रैल 1950 को हिसार जिले के नारनौंद क्षेत्र के थुराना गांव में जन्मे जनरल (सेवानिवृत) डी पी वत्स एक डॉक्टर हैं और पुणे स्थित प्रतिष्ठित आर्म्ड फोर्सेज मेडिकल कॉलेज (AFMC) के कमांडेट और निदेशक रहे हैं।
लेफ्टिनेंट जनरल वत्स ने रोहतक पीजीआईएमएस से डॉक्टरी की और 1975 में सेना में चुने गए। इसके बाद 1982 में उन्होंने AFMC से MS(Opthalmology) भी की। उन्हें 2011 में परम विशिष्ठ सेवा पदक का सम्मान मिला। जनरल वत्स को 2003 में सेना पदक, 1999 में विशिष्ठ सेना पदक सहित कई सम्मान हासिल हैं।
लेफ्टिनेंट जनरल देवेंद्र पाल वत्स को भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार में मई 2011 में हरियाणा लोकसेवा आयोग के चेयरमैन का पद सौंपा गया। वे भारतीय सेना से लगभग सभी प्रमुख अस्पतालों में बड़े पदों पर रह चुके हैं।
वे फिलहाल कई सालों से अग्रोहा स्थित मेडिकल कॉलेज के Opthalmology department के प्रमुख हैं।
राज्यसभा चुनाव के लिए सोमवार, 12 मार्च को नामांकन का आखिरी दिन है। अगर विपक्ष से कोई उम्मीदवार आता है तो 23 मार्च को वोट डाले जाएंगे और उसी दिन परिणाम घोषित किया जाएगा। पूरी संभावना ये है कि जनरल वत्स का चुनाव निर्विरोध हो जाएगा क्योंकि विपक्षी दलों के पास टक्कर देने लायक आंकड़ा ही नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *