इनेलो को गोहाना रैली स्थगित, अब 7 अक्टूबर को होगी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Manu Mehta, Yuva Haryana

Gurugram, 24 Sept, 2018

इनेलो की तरफ से 25 सितंबर को गोहाना में होने वाले सम्मान दिवस समारोह को स्थगित कर दिया गया है। आज नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने गुरुग्राम में पत्रकारों को यह जानकारी दी।

अभय चौटाला ने बताया कि लगातार बारिश होने की वजह से रैली स्थल पर काफी पानी भर गया है। जिस वजह से रैली की तारीख को आगे किया गया है। अब यह रैली 7 अक्टूबर को गोहाना में ही होगी।

बता दें कि इनेलो की तरफ से ताऊ देवीलाल के सम्मान में यह रैली हर वर्ष आयोजित की जाती है। इसी के चलते इस साल यह रैली गोहाना में होनी थी लेकिन बीते तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से रैली स्थल पर पानी भर गया है ।

हरियाणा के नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने गुरुग्राम में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर गोहाना में होने वाली रैली के बारे में बताया और कहा कि जो रैली गोहाना में इनेलो  पार्टी की होने वाली थी उस रैली का कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया जा रहा है क्योंकि कई दिन से चल रही तेज बरसात के कारण इस रैली को समय पर करना मुमकिन नही है क्योंकि जो 300 एकड़ जगह में इस रैली को किया जाना था वहां काफी भारी मात्रा में पानी भर चुका है जिसके बाद वहां आने वाले लोगों का रैली के दौरान काफी परेशानी होसकती है  जिस कारण से इस रैली को आने वाली 7 अक्टूबर को एक बार फिर से तय किया गया है
इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को लेकर भी आरोप लगाते नजर आये की इनेलो पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए गए हरियाणा में अलग-अलग जगहों के होर्डिंग को देखकर इन दिनों हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर काफी चिंतित नजर आ रहे हैं क्योंकि जब भी वह सड़क पर निकलते हैं तो कहीं ना कहीं इनेलो पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए होल्डिंग उनको गाड़ी से सड़को पर  दिखाई देते हैं और वह अपने अधिकारियों को यह आदेश देते हैं कि जब भी मैं इस रास्ते से वापस आए तो इन सभ होर्डिंग को जल्द से जल्द हटा लिया जाए
इस प्रेस वार्ता में अभय सिंह चौटाला ने कुछ समय पहले राव इंद्रजीत द्वारा दिए गए बयान की चुटकी ली और कहा कि जब केंद्रीय मंत्री राव इंदरजीत और अन्य दो सांसद प्रधानमंत्री से मिलने गए और प्रधानमंत्री ने उनको समय नहीं दिया तो क्या फायदा है राव इंद्रजीत के  ऐसे पद का और साथ ही साथ अभय चौटाला ने कहा कि राव इंद्रजीत को जल्द से जल्द अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए क्योंकि तीन सांसद इकट्ठे होकर प्रधानमंत्री से मिलने गए और प्रधानमंत्री ने उनको थोड़ी सी  भी तवज्जो नहीं दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *