नेत्रहीन विद्यार्थियों के लिए खुशखबरी

चर्चा में बड़ी ख़बरें युवा हरियाणा

Yuva Haryana, 

Sonipat, (02-04-2018)

कम्प्यूटर की पढ़ाई और कम्प्यूटर पर काम करने वाले नेत्रहीन विद्यार्थियों के लिए एक अच्छी खबर है। अब वह भी कम्प्यूटर पर आसानी से काम कर सकेंगे।

नेत्रहीन विद्यार्थी अब कम्प्यूटर पर पढ़ाई के दौरान टैक्सट मैसेज अंग्रेजी भाषा के भारतीय उच्चारण में सुन सकेंगे।

दीनबंधु छोटू राम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल की छात्रा मुक्ता ने एक सॉफ्टवेयर डिजाइन किया है जिसके बाद कम्प्यूटर की पढ़ाई की राह में नेत्रहीनता अब बाधा नहीं बन पाएगी।

बता दें कि नेत्रहीन विद्यार्थियों को कम्प्यूटर पर पढ़ाई के दौरान अंग्रेजी का अमरीकन और ब्रिटिश उच्चारण सुनने को मिलता है। अमरीकन और ब्रिटिश उच्चारण भारतीय उच्चारण की अपेक्षा तीव्र गति से होता है और अक्सर विद्यार्थियों को उसका अर्थ समझने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

अर्थ को समझने के लिए बार बार टैक्सट को रिपीट करना पड़ता है। ऐसे में नया सॉफ्टवेयर इन सब परेशानियों को दूर कर देगा।

दीनबंधु छोटू राम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल की छात्रा मुक्ता ने नेत्रहीन विद्यार्थियों की परेशानियों को समझते हुए इस विषय पर शोध शुरू किया था। मुक्ता को नेत्रहीन विद्यार्थियों के लिए कार्य करने में कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ा।

मुख्य समस्या तो यह थी कि इसको धरातल पर कैसे लाया जाए। इस विषय के भावानात्मक व थ्री डी रूपांतर पर कुछ ही पाठ्य सामग्री उपलब्ध थी। मुक्ता ने 4 वर्ष की कड़ी मेहनत के बाद मैथडोलॉजी कार्यप्रणाली बनाई। उसके बाद अपना डाटाबेस बनाया। अंत में मुक्ता इस मुकाम पर पहुंची कि नेत्रहीन विद्यार्थी अंग्रेजी के भारतीय उच्चारण में कम्प्यूटर पर पढ़ाई कर सकेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *