गेस्ट टीचर्स के वेतन में 25 फीसदी तक बढोत्तरी, हर साल दो बार बढ़ेगा वेतन

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

Chandigarh, 13 July, 2018

हरियाणा सरकार ने राज्य के सरकारी स्कूलों में सेवारत अतिथि अध्यापकों के वेतन को 20 से 25 प्रतिशत बढ़ाने तथा भविष्य में इसे हर वर्ष दो बार महंगाई की दर के अनुसार शत-प्रतिशत आधार पर बढ़ाने का निर्णय लिया है।

अब जेबीटी/ड्राईंग टीचर, मास्टर व स्कूल लैक्चररों के तौर पर लगे अतिथि अध्यापकों को एक जुलाई 2018 से क्रमश: 26,000 रूपए, 30,000 रूपए व 36,000 रूपए प्रतिमाह वेतन मिलेगा। यही नहीं इनका वेतन हर वर्ष एक जनवरी व एक जुलाई से हरियाणा प्रदेश के ‘कॉस्ट ऑफ लिविंग इंडेक्स’ में होने वाली बढ़ौतरी के बराबर दर से बढ़ता रहेगा।
शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने बताया कि अतिथि अध्यापकों के चार संगठनों के साथ मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल व उनकी मीटिंग हुई थी जिसमें अतिथि अध्यापकों के हित में विशेष कदम उठाया गया है।

यह भी निर्णय लिया गया है कि भविष्य में इन अतिथि अध्यापकों का वेतन महंगाई की दर के अनुसार शत-प्रतिशत आधार पर हर साल जनवरी व जुलाई माह में बढ़ता रहेगा। इस प्रकार अगली बढ़ौतरी एक जनवरी 2019 से लागू होगी और यह आर्थिक एवं सांख्यिकीय विशलेषण विभाग हरियाणा द्वारा तब तक प्रदेश के ‘कॉस्ट ऑफ लिविंग इंडेक्स’ में निर्धारित एवं घोषित की जाने वाली बढ़ौतरी के बराबर होगी।

पिछली सरकार ने वर्ष 2006 में अतिथि अध्यापकों की नियुक्ति की थी जिनको प्रति पीरियड के हिसाब से पैसे दिए जाते थे। इसके बाद उनके वेतन में थोड़ी-बहुत बढ़ौतरी की गई। वर्तमान सरकार ने सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट के बाद 14.52 प्रतिशत बढ़ौतरी सुनिश्चित करते हुए इन जेबीटी/ड्राईंग टीचर, मास्टर व स्कूल लैक्चररों का वेतन दिनांक एक जनवरी 2017 से क्रमश: 21,715 रूपए, 24,001 रूपए तथा 29,715 रूपए  प्रतिमाह कर दिया था। अब मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य के सरकारी स्कूलों में सेवारत हजारों अतिथि अध्यापकों के हित में निर्णय लेते हुए जेबीटी/ड्राईंग टीचर, मास्टर व स्कूल लैक्चररों का वेतन क्रमश: 26,000 रूपए, 30,000 रूपए व 36,000 रूपए करने का निर्णय लिया है।

यह भी निर्णय लिया गया है कि भविष्य में इन अतिथि अध्यापकों का वेतन महंगाई की दर के अनुसार शत-प्रतिशत आधार पर हर साल जनवरी व जुलाई माह में बढ़ता रहेगा। इस प्रकार अगली बढ़ौतरी एक जनवरी 2019 से लागू होगी और यह आर्थिक एवं सांख्यिकीय विशलेषण विभाग हरियाणा द्वारा तब तक प्रदेश के ‘कॉस्ट ऑफ लिविंग इंडेक्स’ में निर्धारित एवं घोषित की जाने वाली बढ़ौतरी के बराबर होगी।

For Regular Updates Download App Yuva Haryana From Play Store.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *