खिलाड़ियों के लिए खुशखबरी, अब इलाज के नहीं जाना पड़ेगा दूर, रोहतक में होगा इलाज

Breaking खेल चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 30 May, 2018
हरियाणा के खिलाडि़यों ने दुनिया भर में अपना रोशन किया है लेकिन खेल के समय जब वे चोटिल हो जाते हैं तो उन्हें इलाज के लिए बाहर जाना पड़ता है। पर अब यह सुविधा पीजीआई रोहतक में शुरू होने जा रही है। पीजीआई में स्पोर्ट्स इंजरी सेंटर खोला जाएगा। यह सेंटर खुलने के बाद पीजीआई में विशेषज्ञों की भर्ती होगी। 
खेलते समय खिलाडि़यों को अकसर चोट लगती रहती है। ऐसे में समय पर बेहतर इलाज जरूरी है। रियो ओलंपिक के दौरान महिला पहलवान विनेश चोटिल हो गई थी। साक्षी मलिक भी अपना घुटने का ऑपरेशन करा चुकी हैं। योगेश्वर दत्त भी सर्जरी करा चुके हैं। कई अन्य दिग्गज खिलाड़ी भी चोटिल हो चुके हैं।
हरियाणा व आसपास के राज्यों में स्पोर्ट्स इंजरी के इलाज का अभाव है। समय पर इलाज न मिलने से खिलाड़ी के प्रदर्शन पर भी असर पड़ता है। ऐसे में ज्यादातर खिलाड़ी विदेशी चिकित्सकों पर ही निर्भर हैं। विदेश में इलाज भी महंगा है।
 
खिलाडि़यों की दिक्कत को समझते हुए ही हरियाणा सरकार ने पीजीआई में स्पोर्ट्स इंजरी सेंटर खोलने का निर्णय लिया है। सेंटर में इलाज के लिए आने वाले खिलाडि़यों के लिए अलग से ऑपरेशन थिएटर होगा, जहां पर एक्सपर्ट मौजूद रहेंगे।
यहां खिलाडि़यों को इलाज की तमाम तरह की आधुनिक सुविधा मुहैया कराई जाएंगी। हेल्थ यूनिवर्सिटी के वीसी डा. ओपी कालड़ा का कहना है कि खेल एवं युवा मंत्रालय ने पीजीआई को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस घोषित किया है। जिसके लिए 12 करोड़ रूपए मंजूर भी किए गए हैं।
यह मंजूरी रोहतक के अलावा बैंग्लुरू मेडिकल कॉलेज को मिली है। सेंटर का प्रथम चरण 3 माह में पूरा कर लिया जाएगा। एक्सपर्ट भर्ती के साथ-साथ सभी प्रकार की आधुनिक मशीन भी स्थापित होंगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *