हरियाणा में शिक्षकों को मनोहर सौगात, प्रमोशन का बदला नियम

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana
Chandigarh, 04 June, 2019

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आज यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक में पीजीटी फिजिक्स, पीजीटी कैमेस्ट्री और पीजीटी गणित के पद पर पदोन्नति हेतु 11 अप्रैल, 2012 को अधिसूचित विभिन्न श्रेणियों के अध्यापकों के लिए सेवा नियम-2012 में संशोधन/छूट को स्वीकृति प्रदान की गई। मंत्रिमण्डल द्वारा मेवात जिला स्कूल शिक्षा (ग्रुप बी) सेवा नियम, 2012 मे संशोधन को भी  स्वीकृति प्रदान की गई। नये नियम मेवात जिला स्कूल शिक्षा (ग्रुप बी) सेवा (संशोधन) नियम, 2019 कहे जाएंगे।

विभिन्न श्रेणियों के अध्यापकों अर्थात वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यों, उच्च विद्यालयों के मुख्याध्यापकों, मौलिक स्कूल हैडमास्टर, स्नातकोत्तर अध्यापकों (पीजीटी), प्रशिक्षित स्नातक अध्यापकों (टीजीटी), प्राथमिक स्कूलों के मुुख्य अध्यापकों और प्राथमिक अध्यापकों के लिए सेवा नियम 11 अप्रैल, 2012 को अधिसूचित किए गये थे।

संशोधन के अनुसार, पीजीटी फिजिक्स के पद पर पदोन्नति हेतु शैक्षणिक योग्यता और अनुभव मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ एम.एससी. फिजिक्स/एप्लाइड फिजिक्स/न्यूक्लियर फिजिक्स/इलेक्ट्रोनिक्स फिजिक्स और बीएड होगी। इसके अलावा, टीजीटी साइंस या टीजीटी गणित के रूप में दो वर्ष का अध्यापन अनुभव तथा हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा (एचटीईटी) / स्कूल अध्यापक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) परीक्षा उर्तीण करने का प्रमाणपत्र होना चाहिए।

इसी प्रकार, पीजीटी कैमेस्ट्री के पद पर पदोन्नति हेतु शैक्षणिक योग्यता और अनुभव मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ एम.एससी. कैमेस्ट्री या बायो कैमेस्ट्री और बीएड होगी। इसके अलावा, टीजीटी साइंस या टीजीटी गणित के रूप में दो वर्ष का अध्यापन अनुभव तथा हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा (एचटीईटी) / स्कूल अध्यापक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) परीक्षा उîाीर्ण करने का प्रमाणपत्र होना चाहिए।

इसी तरह, पीजीटी मैथेमैटिक्स के पद पर पदोन्नति हेतु शैक्षणिक योग्यता और अनुभव मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक स्तर पर एक विषय के रूप में मैथेमैटिक्स के साथ एमए / एमएससी मैथेमैटिक्स / एप्लाइड मैथेमैटिक्स और बीएड होगी। इसके अलावा, टीजीटी मैथेमैटिक्स या टीजीटी साइंस के रूप में दो वर्ष का अध्यापन अनुभव तथा हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा (एचटीईटी) / स्कूल अध्यापक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) परीक्षा उर्तीण करने का प्रमाणपत्र होना चाहिए।

इससे पहले, यदि  टीजीटी साइंस के पास गणित में दो वर्ष का अध्यापन अनुभव नहीं है तो उसे पीजीटी मैथेमैटिक्स के पद पर पदोन्नत नहीं किया जा सकता था चाहे उसके पास गणित में मास्टर डिग्री क्यों न हो और स्नातक स्तर पर गणित का अध्ययन क्यों न किया हो। इसी प्रकार, टीजीटी मैथेमैटिक्स को फिजिक्स या कैमेस्ट्री में मास्टर डिग्री होने बावजूद, उसी विषय के अध्यापन अनुभव की आवश्यकता के कारण पीजीटी फिजिक्स या कैमेस्ट्री के पद पर पदोन्नत नहीं किया जा सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *