Home Breaking पहले घूंघट से हरियाणा सरकार ने करवाई थी फजीहत, अब ताश के पत्तों पर होगी सरकार की उपलब्धियां

पहले घूंघट से हरियाणा सरकार ने करवाई थी फजीहत, अब ताश के पत्तों पर होगी सरकार की उपलब्धियां

0

Pradeep Dhankar, Yuva Haryana
Jhajjar, 10 August, 2018

प्रदेश के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ अपने हलके में करवाए गए विकास कार्यों के प्रचार-प्रसार के लिए एक नया तरीका अपनाने जा रहे हैं। कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ बादली हलके के लोगों को ताश की गड्डी देने जा रहे हैं। यह कोई साधारण ताश की गड्डी नहीं बल्कि 52 पत्तों कि एक ऐसी गड्डी है जिसके हर एक पत्ते पर सरकार द्वारा करवाए गए विकास कार्य की एक झलक दिखाई देगी। इस ताश की गड्डी के 52 पत्तों पर 52 तरह के विकास कार्य और सरकार की उपलब्धियां छपी हुई होंगी। कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ का यह प्रयास बेहद अनूठा है।

हालांकि इससे पहले हरियाणा सरकार की एक मैगजीन जिस पर महिला के घूंघट में होने की फोटो लगाई गई थी। इसमें हरियाणा की आन-बान-शान बताई गई थी। इस फोटो को लेकर भी काफी विवाद हुआ था।

अब तक आपने विकास कार्यों का प्रचार टीवी, अखबार, मैगजीन, पंपलेट या होर्डिंग के जरिए ही देखा होगा। लेकिन अब विकास कार्यों का प्रचार प्रसार ताश की गड्डी ऊपर भी दिखाई देगा। जी हां, सुनने में बात बेशक अजीब लगती हो। लेकिन प्रदेश की कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ सरकार के द्वारा अपने हल्के बादली में करवाए जाने वाले विकास कार्यों के प्रचार प्रसार के लिए एक ऐसी ताश की गड्डी बांटने जा रहे हैं। जिसके हर पत्ते पर सरकार की महत्वकांक्षी योजनाएं और विकास कार्यों की एक झलक दिखाई देगी।

दरअसल कल प्रदेश के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के बादली हलके में हर घर संजीवनी अभियान के तहत हर घर में एक नींबू का पौधा दिया जाएगा पूरे बादली हलके में 1 घंटे के अंदर करीब 60 हजार नींबू के पौधे लगाकर एक नया रिकॉर्ड बनाया जाएगा। कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ इन्हीं नींबू के पौधों के साथ लोगों तक सरकार द्वारा करवाए जाने वाले कार्यों के प्रचार प्रसार के लिए एक ताश की गड्डी भी लोगों को देंगे ।
कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ का कहना है कि जब वह हल्के में घूमते हैं। तो उन्हें लोग ताश सबसे ज्यादा खेलते हुए दिखाई देते हैं। इसीलिए उन्होंने सरकार के प्रचार प्रसार के लिए ताश की गड्डी छपवाने का फैसला लिया है। इस ताश की गड्डी पर 4 साल की सरकार की विकास योजनाओं का बखान किया जाएगा। अब हर गांव की चौपाल में बुजुर्ग ताश खेलते हुए सरकार के विकास कार्यों को देख सकेंगे धनखड़ का कहना है कि वह पहले तो एक किताब छपवाना चाहते थे। लेकिन किताब को लोग रखकर भूल जाते हैं। इसलिए उन्होंने ताश की ऐसी गड्डी छपवाने का फैसला लिया है। जिस पर सरकार के 4 साल के विकास कार्यों का लेखा जोखा दिखाई देगा।
हरियाणा के गांवों की चौपालों में भले ही लोग समय बिताने के लिए ताश खेलते हैं लेकिन समाज में ताश खेलना एक बुराई माना जाता है। ऐसे में कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ताश की गड्डी बादली हलके के हर घर तक पहुंचने जा रहे है। अब इसे सरकार के प्रचार प्रसार की एक अनूठी पहल कहा जाए या फिर कुछ और। इसका फैसला तो खुद आपको ही करना होगा।
Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा-दिल्ली बॉर्डर सील कहने को लेकर सरकार का बड़ा फैसला, अनिल विज ने जारी किया नोटिस

Yuva Haryana, Chandigarh दिल्ली से सटे हरियाणा के इलाकों में कोरोना के बढते केसों को लेकर …