फाइलों को नहीं दबाकर रख सकेंगे अफसर, फाइल की तय होगी समयसीमा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Chandigarh, 20 Oct, 2018

विकास कार्यों और अहम प्रोजेक्ट्स की फाइलों को अब अफसर लंबे समय तक दबाकर नहीं रख सकेंगे। इसके लिए सरकार की तरफ से अधिकारियों पर शिकंजा कसना शुरु हो गया है। सरकार की अहम योजनाओं और प्रोजेक्टस की फाइलों की क्लीयरेंस की समय सीमा तय कर दी गई है। प्रदेश सचिवालय और जिला मुख्यालयों में अटकी फाइलों की वजह से अहम विकास कार्यों में देरी हो रही थी। जिसकी वजह से सरकार फाइलों को तुरंत क्लीयर करने के आदेश दिए है।

सरकार ने पहले से ही सभी कार्यो को पूरा करने की समय सीमा तय कर रखी है। फिर भी काम समय पर पूरा नहीं हो पा रहा था। इस मामले की शिकायत जब मुख्यमंत्री कार्यालय को दी गई तो इस पर एक्शन लेते हुए समय सीमा निर्धारित करते हुए जिन फाइलों पर इमीडियेट लिखा हो उनको एक दिन और जिन पर अर्जेंट लिखा होगा उन फाइलों को तीन दिन में क्लीयर करना होगा। साथ ही समान्य फाइलों को क्लीयर करने के लिए पांच दिन की समय सीमा निर्धारित की गई है।

वहीं मुख्य सचिव कार्यालय ने सभी विभागों के अध्यक्षों और जिला उपायुक्तों, एसडीएम बोर्ड निगमों के प्रबंधकों को साफ निर्देश दिए है कि जिन फाइलों को एक महीने से अधिक हो गया है। उनको क्लीयर करने के लिए विशेष तौर अभियन चलाया जाए। साथ ही सचिव कार्यालय की तरफ से आए निर्देश में ये साफ कहा है कि समय अवधि के खत्म होने के बाद विशेष टीमों का गठन किया जाएगा । सभी विभागों की जांच की जाएगी अगर किसी विभाग में पुरानी फाइलें मिलती है उस विभाग पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *