अब प्राइवेट अस्पतालों को मात देंगे सरकारी अस्पताल, ग्रेडिंग में अव्वल आने पर मिलेगी पांच लाख रुपये की इनामी राशि

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Kamarjeet Virk, Yuva Haryana

Karnal, 14 May, 2019

अब तक आपने सिर्फ सरकारी अस्पतालों की दुर्दशा की कहानियां सुनी होंगी, लेकिन अब प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में भी निजी अस्पतालों की तर्ज पर बेहतर सुविधाएं देने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इसी के चलते करनाल जिले के तीन अस्पतालों को पायलट योजना के तहत सभी सुविधाओं से लैस किया गया है।

इन अस्पतालों में नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड टीम एक बार दौरा कर चुकी है। योजना अनुसार करनाल के नागरिक ट्रामा सेंटर के जरनल वार्डों और लेबर रूम में हर बैड की प्राइवेसी बनाने के लिए पर्दे लगाए गए हैं। इसके अलावा अस्पताल प्रबंधन की तरफ से स्टाफ के सभी सदस्याें का फिटनेस मेडिकल करवाया जा रहा है। मकसद है कि मरीज काे बेहतर इलाज मिले और प्राइवेट अस्पतालों में महंगे इलाज के लिए मजबूर न होना पड़े।

सीएमओ रमेश कुमार ने बताया की मरीजों के साथ सादगी से पेश आने के लिए स्टाफ के सभी सदस्यों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। एंट्री गेट पर सभी वार्डों की लोकेशन दी गई है। अस्पताल के खराब एवं जर्जर हालत में पहुंचे फर्नीचर व अन्य सामान को बदला गया है।

मरीजों को ट्रामा सेंटर में किसी प्रकार की पूछताछ न करनी पड़े, इसके लिए सूचना पट्ट पर हर वार्ड की लोकेशन दी गई है और शिकायतों व सुझाव के लिए पेटिका लगाई गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा की अभी तक इस योजना के तहत करनाल के नागरिक अस्पताल , काछवा और भादसों में निजी हस्पताल की तर्ज पर सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *