सभी खिलाड़ी बराबर होने चाहिए, हरियाणा सरकार ने खेल नीति नहीं वोट नीति बनाई है- इनेलो नेता MS मलिक

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Panchkula, 26 April, 2018

सरकार ने कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों के लिए सम्मान समारोह रखा था जो हाल ही में रद्द कर दिया गया, क्योंकि सरकार की खेल नीतियों के कारण खिलाड़ी नराज चल रहे थे और कार्यक्रम में बहिष्कार करने वाले थे।

जिसको लेकर अब भारतीय कुश्ती संघ के पूर्व अध्यक्ष व इनेलो के वरिष्ठ नेता MS मलिक ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हरियाणा सरकार ने स्पोर्ट्स नीति नहीं वोट नीति बनाई है।

भाजपा सरकार के बनने के बाद ये पहली खेल नीति थी और खिलाड़ियों का पहला सम्मान समारोह था, वो भी कैंसल कर दिया गया। मलिक ने कहा कि इस प्रोग्राम के कैंसिल होने से सरकार की प्रदेश में खूब फजीहत हुई है।

मलिक का कहना है कि सरकार को खिलाड़ियों में किसी भी तरह का भेदभाव नहीं करना चाहिए। प्रदेश के सभी खिलाड़ीॉ चाहे किसी भी संस्थान की तरफ से खेलें वो सभी एक समान हैं।

उन्होंने कहा कि जब हरियाणा में इनेलो सरकार थी तब कमल महेश्वरी ने ब्रॉन्ज मैडल जीता था, वो आंध्रा की रहने वाली थी। लेकिन ससुराल हरियाणा में था, हरियाणा से किसी भी प्रकार का संबंध होने पर उस समय की मौजूदा सरकार ने उन्हें 25 लाख की इनामी राशी प्रदान की थी।

भाजपा पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने पहले तो खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए नकद इनाम का ऐलान किया बाद में जब खिलाड़ियों ने अपनी जबरदस्त परफॉर्मेंस से 22 मेडल जीत लिए तो इनामी राशि देने से सरकार पीछे हट गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *