खेल कोटे से चयनित कर्मचारियों की नौकरी पर लटकी तलवार

Breaking खेल चर्चा में बड़ी ख़बरें रोजगार सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Panchkula, 07 Feb,2019

हरियाणा कर्मचारी आयोग द्वारा हाल ही में 18 हजार पदों पर ग्रुप डी के कर्मचारियों को भर्ती किया गया है। इस भर्ती में आयोग ने खेल कोटे के तहत भी भर्ती की है, परन्तू अब खेल कोटे के तहत भर्ती हुए आवेदकों के चयन पर तलवार लटक गई है।

दरअसल जिस खेल ग्रेडेशन सर्टिफिकेट के आधार पर वे भर्ती हुए थे, उन्हें अब खेल विभाग ने सही मानने से इंकार कर दिया है। भर्ती हुए कर्मचारियों के संबंधित विभाग खेल विभाग में उनके सर्टिफिकेट भेज कर जांच करवा रहा है, जिसके जवाब में खेल विभाग उन सर्टिफिकेटों को रद्द मानने के लिए कह रहा है। ऐसे में भर्ती हुए कर्मचारियों के सामने परेशानी खड़ी हो गई है।

खेल अधिकारियों का कहना है कि नई खेल ग्रेडेशन नीति के तहत इन कर्मचारियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

ये है नई खेल ग्रेडेशन नीति..

नई खेल ग्रेडेशन नीति 25 मई 2018 को बनाई गई थी। इसके तहत कहा गया था कि जिन खिलाड़ियों के खेल ग्रेडेशन सर्टिफिकेट बनने हैं वे अपने ग्रेडेशन की दोबारा जांच करा लें। इस जांच में जिनके ग्रेडेशन सही होंगे उनके सर्टिफिकेट दोबारा जारी कर दिए जाएंगे। पहले राज्य स्तर पर और ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी जैसी प्रतियोगिता में शामिल होने पर ही यह सर्टिफिकेट जारी कर दिया जाता था, अब पदक जीतने पर ही ग्रेडेशन सर्टिफिकेट दिया जाता है।

खेल विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अशोक खेमका ने कहा कि जिन कर्मचारियों ने खेल कोटे से नौकरी ली है वो अपने सर्टिफिकेट की जांच करा लें, सही पांए जाने पर उनके सर्टिफिकेट दोबारा जारी कर दिए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *