जीएसटी काउंसिल की बैठक में आम जनता को राहत, 50 से ज्यादा चीजें हुई सस्ती

Breaking चर्चा में देश बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 21 July, 2018

जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई बड़े और अहम फैसले लिये गए हैं. इस बैठक में जहां सैनेटरी नैपकिन को जीएसटी के दायरे से बाहर कर दिया गया है. वहीं काफी चीजों से जीएसटी कम किया गया है।

इसके अलावा घरेलू उपयोग में आने वाली कई वस्तुओं को जैसे झाड़ू, पत्थर, मार्बल, राखी, लकड़ी की मूर्तियों को भी जीएसटी से बाहर रखा है. इसके अलावा फॉस्फेरिक एसिड, हैंडलूम के अलावा एक हजार तक के जूते को भी 5 फीसदी के स्लैब में रखा गया है।

इसके अलावा 18 चीजों को 28 फीसदी के स्लैब से हटाकर 18 फीसदी के स्लैब में ला दिया है. इनमें घर के उपयोग का रेफ्रिजरेटर, 25 इंच तक के टीवी, आयन बैटरी, वैक्यूम क्लीनर, फूड ग्राइंडर्स-मिक्सर, स्टोरेज वाटर हीटर, हैयर ड्रायर, पेंट, ब्रुश, वाटर कलर, मिल्क कलर, आइसक्रीम कलर, परफ्यूम, टॉयलेट स्प्रे और कमोड को 18 फीसदी के स्लैब में रखा है।

जीएसटी के दायरे से बाहर होने वाली चीजें

  1. सैनिटरी पैड्स
  2. राखियां
  3. संगमरमर से बनी मूर्तियां
  4. झाड़ू बनाने में इस्तेमाल होने वाला कच्चा माल
  5. साल के पत्ते

 

जीएसटी 12% से घटाकर 5% किया

  1. हैंडलूम दरी
  2. फास्फोरिक एसिड युक्त उर्वरक
  3. बुनी हुई टोपियां (1000 रुपये से कम कीमत की)

 

जीएसटी 28% से घटाकर 18% किया

  1. लिथियम आयन बैटरी
  2. वैक्यूम क्लीनर
  3. फूड ग्राइंडर, मिक्सर
  4. शेवर्स, हेयर क्लिपर्स
  5. हैंड ड्रायर्स
  6. वाटर कूलर्स
  7. आइसक्रीम फ्रीज़र
  8. रेफ्रिज़रेटर
  9. कॉस्मेटिक्स
  10. परफ्यूम और सेंट
  11. पेंट और वार्निश

 इसके अलावा तेल मार्केटिंग कंपनियों को बड़ी राहत देते हुए पेट्रोल और डीज़ल में मिलाने के लिए दिया जाने वाले इथेनॉल पर जीएसटी की दर 18 फ़ीसदी से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *