हरियाणा में जिन लड़कियों के भाई नहीं, उनके लिए उठी आरक्षण की मांग, गवर्नर से की अपील

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें युवा सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Haryana, 2 April, 2018

हरियाणा में बेटियों के लिए हर तरह की सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।

चाहे वो खेल हो, सुरक्षा हो, पढ़ाई- लिखाई, या फिर नौकरी हो।

बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए हर तरफ से मुहिम जारी की जा रही है।

अब उन बेटियों के लिए ये खुशी की बात साबित हो सकती है, जिनके भाई नहीं हैं और वे नौकरियां तलाश कर रही हैं।

बेटी बचाओं- बेटी पढ़ाओं अभियान की सफलता के बाद अब हरियाणा में बेटियों के अभिभावकों की पहल पर आरंभ किए गए व्याट्सअप ग्रुप पर जुड़े सदस्यों ने राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी से मिलकर मांग की है कि जिन लड़कियों का कोई भाई नहीं है, उन्हें सरकारी नौकरियों में एक प्रतिशत आरक्षण का विशेष प्रावधान किया जाए।

अभिभावकों ने प्रो. सोलंकी से मेडिकल, इंजीनियरिंग और अन्य व्यवसायिक शिक्षा में सहूलियत देने और ऐसी लड़कियों की पूरी फीस माफ व विशेष छात्रवृत्ति के प्रावदान की अपील की।

साथ ही उन्होंने इन लड़कियों को सरकारी नौकरी में आवेदन के समय आयु सीमा में भी छुट की बात कही।

अभिभावकों का कहना है कि अगर प्रदेश सरकार इस मांग को पूरी करता है तो निश्चित रूप से हरियाणा बेटी बचाओं- बेटी पढ़ाओं राष्ट्रव्यापी अभियान की सफलता के बाद देश के समक्ष एक उदाहरण प्रस्तुत कर सकेगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *