बच्ची की मौत के मामले में गुरुग्राम फोर्टिस अस्पताल प्रबंधन हटा दो कदम पीछे, सरकार से मांगी माफी

चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Haryna, 24-04-2018

पिछले साल नवंबर महीने के दौरान डेंगू से बच्ची की मौत होने के बाद, परिजनों से लाखों रुपये का बिल वसूलने के आरोपों से विवादों में आए, गुरुग्राम फोर्टिस अस्पताल प्रबंधन ने हरियाणा सरकार से माफी मांग ली है।

अस्पताल प्रबंधन दवारा सरकार से माफी मांगने के बाद, सरकार ने शर्तों के आधार पर ब्लड बैंक खोलने की मंजूरी दे दी है। अस्पताल प्रबंधन ने सरकार के सामने कई तरह के सुझाव रखे हैं, जिन पर सरकार की ओर से अभी ठोस निर्णय लेना बाकी है।

बता दें कि पिछले साल नवंबर में डेंगू से पीड़ित आदया ने अस्पताल में दम तोड़ दिया था। जिसके बावजूद अस्पताल प्रबंधन ने बच्ची के परिजनों पर 15 लाख रुपये का बिल बना दिया था। अस्पताल प्रबंधन ने बिल की भरपाई न किए जाने पर बच्ची के परिजनों को शव देने से साफ मना कर दिया था।

बच्ची के पिता ने पूरे मामले को मीडिया के सामने खुलकर रखा था। जिसके बाद मामले में केंद्र सरकार ने भी हस्तक्षेप किया था और हाईकोर्ट ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए सरकार को कड़ी फटकार लगाई थी।

हरियाणा सरकार ने अस्पताल का ब्लड बैंक का लाइसेंस रद्द करने के साथ ही, पूरे मामले में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को लिखकर लीज रद्द कराने के लिए कहा था। साथ ही इस मामले में गठित कमेटी ने भी जांच पड़ताल के बाद माना था, कि बच्ची की मौत संबंधी मामले, मंहगी दवाएं और बिल थमाने संबंधी सभी मामलों में अनियमितताएं बरती गई थी।

अस्पताल ने सरकार को अप्रैल की शुरुआत में पत्र भेजा था। जिसमें अस्पताल ने दो कदम पीछे हटने का प्रस्ताव सरकार के सामने रखा है। अस्पताल ने पूरे मामले पर हल निकालने का प्रयास किया है।

अस्पताल प्रशासन भविष्य में फार्मेसी दवारा कम से कम रेट पर दवा उपलब्ध कराने और महंगी दवाओं के स्थान पर विकल्प के तौर पर जैनरिक दवाएं भी उपलब्ध कराने को तैयार है। यह पत्र सरकार के पास पहुंचने के बाद जहां फोर्टिस प्रबंधन को शर्तों के आधार पर ब्लड बैंक चालू करन की स्वीकृति मिल गई है, वहीं अस्पताल की लीज रद्द किए जाने के मामले में सरकार विचाराधीन है।

 

1 thought on “बच्ची की मौत के मामले में गुरुग्राम फोर्टिस अस्पताल प्रबंधन हटा दो कदम पीछे, सरकार से मांगी माफी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *