39.3 C
Haryana
Friday, September 25, 2020

बच्ची की मौत के मामले में गुरुग्राम फोर्टिस अस्पताल प्रबंधन हटा दो कदम पीछे, सरकार से मांगी माफी

Must read

युवाओं में फिर दिखने लगा Abroad जाने का Craze, पासपोर्ट के आवेदनों में होने लगा इजाफा 

Yuva Haryana News Chandigarh , 25 September , 2020 कोरोना काल में हर कोई व्यक्ति अपने घरों की तरफ भाग रहा था। क्योंकि स्थिति ऐसी हो...

अगले हफ्ते से फसल खरीद होगी शुरू, तो विपक्ष के झूठ का होगा पर्दाफाश

Yuva Haryana News Chandigarh, 25 September, 2020 कृषि विधेयकों को वापिस लेने की किसानों की मांग पर सरकार ने साफ तौर पर कह दिया है कि...

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आज राहत, जानिए क्या है आपके शहर में दाम 

Yuva Haryana News Chandigarh , 25 September , 2020 आज लगातार छठा दिन है जब तेल की कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। ये खबर...

कृषि विधेयक के विरोध में आज किसानों का भारत बंद ऐलान, कई ट्रेनें भी बंद

Yuva Haryana News Chandigarh, 25 September, 2020 देश भर के किसान कृषि अध्यादेशों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। आज किसान संगठनों ने देश बंद...

Yuva Haryana

Haryna, 24-04-2018

पिछले साल नवंबर महीने के दौरान डेंगू से बच्ची की मौत होने के बाद, परिजनों से लाखों रुपये का बिल वसूलने के आरोपों से विवादों में आए, गुरुग्राम फोर्टिस अस्पताल प्रबंधन ने हरियाणा सरकार से माफी मांग ली है।

अस्पताल प्रबंधन दवारा सरकार से माफी मांगने के बाद, सरकार ने शर्तों के आधार पर ब्लड बैंक खोलने की मंजूरी दे दी है। अस्पताल प्रबंधन ने सरकार के सामने कई तरह के सुझाव रखे हैं, जिन पर सरकार की ओर से अभी ठोस निर्णय लेना बाकी है।

बता दें कि पिछले साल नवंबर में डेंगू से पीड़ित आदया ने अस्पताल में दम तोड़ दिया था। जिसके बावजूद अस्पताल प्रबंधन ने बच्ची के परिजनों पर 15 लाख रुपये का बिल बना दिया था। अस्पताल प्रबंधन ने बिल की भरपाई न किए जाने पर बच्ची के परिजनों को शव देने से साफ मना कर दिया था।

बच्ची के पिता ने पूरे मामले को मीडिया के सामने खुलकर रखा था। जिसके बाद मामले में केंद्र सरकार ने भी हस्तक्षेप किया था और हाईकोर्ट ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए सरकार को कड़ी फटकार लगाई थी।

हरियाणा सरकार ने अस्पताल का ब्लड बैंक का लाइसेंस रद्द करने के साथ ही, पूरे मामले में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को लिखकर लीज रद्द कराने के लिए कहा था। साथ ही इस मामले में गठित कमेटी ने भी जांच पड़ताल के बाद माना था, कि बच्ची की मौत संबंधी मामले, मंहगी दवाएं और बिल थमाने संबंधी सभी मामलों में अनियमितताएं बरती गई थी।

अस्पताल ने सरकार को अप्रैल की शुरुआत में पत्र भेजा था। जिसमें अस्पताल ने दो कदम पीछे हटने का प्रस्ताव सरकार के सामने रखा है। अस्पताल ने पूरे मामले पर हल निकालने का प्रयास किया है।

अस्पताल प्रशासन भविष्य में फार्मेसी दवारा कम से कम रेट पर दवा उपलब्ध कराने और महंगी दवाओं के स्थान पर विकल्प के तौर पर जैनरिक दवाएं भी उपलब्ध कराने को तैयार है। यह पत्र सरकार के पास पहुंचने के बाद जहां फोर्टिस प्रबंधन को शर्तों के आधार पर ब्लड बैंक चालू करन की स्वीकृति मिल गई है, वहीं अस्पताल की लीज रद्द किए जाने के मामले में सरकार विचाराधीन है।

 

More articles

Latest article

युवाओं में फिर दिखने लगा Abroad जाने का Craze, पासपोर्ट के आवेदनों में होने लगा इजाफा 

Yuva Haryana News Chandigarh , 25 September , 2020 कोरोना काल में हर कोई व्यक्ति अपने घरों की तरफ भाग रहा था। क्योंकि स्थिति ऐसी हो...

अगले हफ्ते से फसल खरीद होगी शुरू, तो विपक्ष के झूठ का होगा पर्दाफाश

Yuva Haryana News Chandigarh, 25 September, 2020 कृषि विधेयकों को वापिस लेने की किसानों की मांग पर सरकार ने साफ तौर पर कह दिया है कि...

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आज राहत, जानिए क्या है आपके शहर में दाम 

Yuva Haryana News Chandigarh , 25 September , 2020 आज लगातार छठा दिन है जब तेल की कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। ये खबर...

कृषि विधेयक के विरोध में आज किसानों का भारत बंद ऐलान, कई ट्रेनें भी बंद

Yuva Haryana News Chandigarh, 25 September, 2020 देश भर के किसान कृषि अध्यादेशों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। आज किसान संगठनों ने देश बंद...

सस्ता हुआ सोना-चांदी, आप भी त्यौहार में अब Gift कर सकते है सोना 

Yuva Haryana News Chandigarh , 25 September , 2020 Festival आने वाले हैं और ऐसे में अगर आप भी अपने किसी करीबी को सोना-चांदी की कोई वस्तु देना...