गुरुग्राम पुलिस की गुंडागर्दी, शराब पीकर कार चला रहे चालक की गाड़ी के शीशे फोड़े

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Manu Mehta, Yuva Haryana

Gurugram, 12 August, 2018

लोगों को कायदा- कानून सिखाने वाली गुरुग्राम पुलिस खुद आजकल चालान के नाम पर गुंदागर्दी कर रही है। पुलिस ने यहां ड्रंक एंड ड्राइव की नाकेबंदी के दौरान एक गाड़ी को रोका और इसके सारे शीशे तोड़ डाले।

इतना ही नहीं पुलिस की इस गुंडागर्दी का सुबूत पुलिस कर्मी के हाथों से निकलता ये खून है, वहीं जब ट्रैफिक पुलिस के जवानों ने जब कार के शीशे तोड़े, तो कांच के टुकड़े कार के ड्राइवर के चेहरे पर भी लगे, जिससे उसके चेहरे से भी खून निकलने लगा।

दरअसल, एमजी रोड़ पर पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वाले लोगों पर नकेल लगाने के लिए पुलिस नाका लगाया हुआ था और गाड़ियों की चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक आई टेन कार वहां से गुजरने लगी तभी कार चालक को जब पुलिस कर्मी ने रुकने का इशारा किया। कार चालक भागने की कोशिश करने लगा, तभी दूसरे पुलिसकर्मी ने बेरिकेड लगा कर कार को रोक लिया और कार रुकते ही पुलिसकर्मियों ने कार के दोनों तरफ के शीशों पर धावा बोल दिया और शीशो को चकनाचूर कर दिया ।

मीडिया के पहुंचने पर पुलिसकर्मी बहाना बनाने लगे कि गाड़ी के शीशे तो पहले से टूट हुए थे जिसके कांच हमारे मुलाजीमो के हाथ मे लग गए। हालांकि कार चालक ने शराब पी हुई थी, इसीलिए उसकी गाड़ी को कानूनन इम्पाउंड कर लिया गया ।

लेकिन सवाल ये है कि अगर कोई यातायात नियम तोड़ता है तो उस पर कानूनी करवाई की जाए लेकिन पुलिस की ये गुंडागर्दी बिल्कुल भी जस्टिफाई नहीं की जा सकती।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *