धर्म बदलने से उत्पीड़न ख़त्म नहीं होगा, आंदोलन करें- अजय यादव

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Manu Mehta, Yuva Haryana

Gurugram, 08 June, 2018

2019 में होने वाले चुनाव को लेकर पार्टियों में रसा-कसी का दौर जारी है. जहां एक तरह बीजेपी के चाणाक्य हर राज्य में पहुंचकर अपनी कमर मजबूत करने में लगे है. वहीं कांग्रेस भी अपने 2019 के प्लान ऑफ़ एक्शन में जुटी हुई है। गुरुग्राम पहुंचे कप्टन अजय यादव ने बहुत ही साफ़ शब्दों में बता दिया है कि 2019 के चुनाव के लिए उनका फ़ोकस पिछ़ड़ी जातियों पर रहेगा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 11 जून को पिछड़े वर्गों से जुड़े एक अधिवेशन को संबोधित करेंगे. दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होने वाले इस अधिवेशन का आयोजन कांग्रेस के ओबीसी विभाग की ओर से किया जा रहा है. गुरुग्राम पहुंचे हरियाणा के पूर्व वित्त मंत्री कप्टन अजय यादव ने बताया कि राहुल गांधी ओबीसी वर्ग के अखिल भारतीय अधिवेशन को संबोधित करेंगे. इस दौरान ओबीसी समाज अपने मुद्दों को भी उनके समक्ष रखेगा. जिसके चलते गुरुग्राम, मेवात, रेवाडी और महेंद्रगढ़ से लोगों को शामिल किया जाएगा।

कप्टन अजय यादव का कहना है कि पिछड़ा वर्ग बीजेपी सरकार से खुश नहीं है। कर्नाटक और कैराना के उपचुनाव इसका उदाहरण है। पूर्व मंत्री ने कहा कि कांग्रेस हमेशा पिछड़े वर्ग के हक की बात करती रही है.वहीं जींद के धर्म परिवर्तन के मामले पर बोलते हुए अजय यादव ने कहा कि पिछड़ी जातियों को अपने हक के लिए लड़ने की ज़रुरत है। अजय यादव ने कहा कि धर्म परिवर्तन करने के बजाए लोग आंदोलन करें और जुलूस निकाले।

वहीं हरियाणा में बंटती हुई कांग्रेस पर पूर्व मंत्री कप्टन अजय यादव अपनी ही पार्टी के नेताओं पर तंज कसते हुए नज़र आए। अजय यादव ने कहा कि नेताओं को मेरा-मेरा करने की बजाए मिलबांट कर पार्टी को मजबूत करने का काम करना चाहिए।

जाति-धर्म पर राजनीति और चुनावी एजेंडा कोई नई बात नहीं है। ये वो समीकरण जिसके वोट बैंक का खेल सालों से चलता आ रहा है। हालिया हालातों की बात करें तो इस बार कांग्रेस के पास नया नेतृत्व है… तो वहीं राज्य में दो गुटों में बंटी पार्टी। देखना होगा कि संभावनाओं के इस खेल में कांग्रेस का ‘पिछड़ी जाति अधिवेशन’ का दांव कितना असर डाल पाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *