Home Breaking हरेरा ने बिल्डरों पर कसा शिकंजा, पोजिशन ना देने वाले बिल्डरों पर जुर्माना

हरेरा ने बिल्डरों पर कसा शिकंजा, पोजिशन ना देने वाले बिल्डरों पर जुर्माना

0
0Shares
Manu Mehta, Yuva Haryana
Gurugram, 1 May, 2018
गुरुग्राम में शुरू हुई HARERA (Haryana Real Estate Regulatery Authority) Court ने बिल्डर्स के प्रति कडा रुख अपनाना शुरू कर दिया है और नियमों की अवहेलना करने वाले बिल्डरों पर जुर्माना भी लगाना शुरू कर दिया है |
गुरुग्राम में HARERA के चेयरमैन के के खंडेलवाल का कहना है कि HARERA की शुरुआत गुरुग्राम में 05 फरवरी 2018 को की गई थी जिसका मुख्य उद्देश्य बिल्डर व निवेशको के बीच सामंजस्य स्थापित करना है खासकर उन निवेशको का समाधान करना है जिन्हें बिल्डर्स ने धोखे में रखा हुआ है |
अब तक गुरुग्राम की HARERA Court में अब तक लगभग 250 शिकायतें आ चुकी है जिनमें से लगभग 180 शिकायतों पर जल्द ही सुनवाई पूरी होने वाली है | हाल ही में एक शिकायत के दौरान जब एमार एम जी एफ नाम के बिल्डर को कोर्ट में पेश होने का समन भेजा गया तो वो आने में आनाकानी कर रहे हैं लेकिन जैसे ही उन्हें HARERA Court द्वारा दस लाख रूपये जुर्माने का शो-काज नोटिस भेजा गया तुरंत ही उनके रिप्रजेंटेटिव आ गए |
वहीं HARERA कोर्ट में अपनी शिकायत लेकर पहुचे निवेशको में भी अब उम्मीद की किरण जगी है और उनका मानना है कि गुरुग्राम में बिल्डर्स द्वारा उनकी जीवन भर की जमा पूंजी ले ली गई , बैंक लोन की इ एम आई भरने के साथ साथ किराए के मकान में रह रहे है जिसका किराया भी भरना पड रहा है | कुछ ऐसा ही हुआ पेशे से जेट एयरवेज के पायलट प्रदीप चौहान के साथ जो सब कुछ लुटाने के बाद अब HARERA Court की शरण में पहुचे जंहा से उन्हें न्याय की उम्मीदें है |
RERA Act की धारा 3 के मुताबिक़  किसी भी प्रोजेक्ट की एडवरटाईजमेंट देने से पहले बिल्डर को RERA के तहत रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होता है लेकिन जो प्रोजेक्ट 01 मई 2017 से पहले के आन्गोइंग प्रोजेक्ट थे उन्हें इससे छूट दी हुई थी या जिन प्रोजेक्ट्स का कम्पलीशन हो चुका है उन्हें भी RERA  पद्यति से बाहर रखा गया है लेकिन बावजूद इसके जिन बिल्डर्स ने इसकी अवहेलना की है उनपर प्रोजेक्ट कोस्ट का पांच परसेंट तक जुर्माना लगाया जा रहा है |
साइबर सिटी गुरुग्राम ने विश्व के मानचित्र पर जहां ऊंची ऊंची इमारतों के दम पर अलग पहचान बनाई है वन्ही सबसे ज्यादा बिल्डर्स द्वारा निवेशकों के मामले में भी उभरकर सामने आई है इसलिए हरियाणा सरकार द्वारा पूरे हरियाणा के निवेशको के लिए पंचकुला में HARERA Court व् अकेले गुरुग्राम के निवेशकों के लिए गुरुग्राम में HARERA Court की शुरुआत की है।
Read This News Also >>>>
Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों पर कांग्रेसियों का विरोध लगातार जारी, बैलगाडी लेकर किया रोष प्रदर्शन

Yuva Haryana, Hisar हिसार हलका ç…