Home Breaking CAA को लेकर पंजाब पहुंचे CM मनोहर लाल, 40 परिवारों से की मुलाकात

CAA को लेकर पंजाब पहुंचे CM मनोहर लाल, 40 परिवारों से की मुलाकात

0
0Shares

Sahab Ram, Chopal Tv

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जालंधर (पंजाब) के पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर में  नागरिकता संसोधन कानून 2019 के समर्थन में जन जागरण अभियान की शुरुवात की। उन्होने जालंधर के दीन दयाल उपाध्याय नगर में बसे शरणार्थियों के 30 से 40 परिवारों को उनके घर में मिलकर उनको पम्पलेट देकर और बातचीत कर जागरूक किया। इस अवसर पर नगर के वासियो ने मुख्यमंत्री जी का भव्य स्वागत किया और नागरिक संसोधन अधिनियम के तहत उन्हें नागरिकता देने पर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का धन्यवाद किया।

मनोहर लाल ने जालंधर के रेड पैटल में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत मे आकर बसे शरणार्थियों से बातचीत की।  शरणार्थी दयाल लाल ने मुख्यमंत्री जी को बताया कि 1989 में भारत आया था उन्होंने बताया कि पाकिस्तान में वहाँ के अल्पसंख्यको के साथ बहुत अत्याचार और तकलीफ सहन करनी पड़ती है। इसी प्रकार  लाल चंद ने बताया कि वहाँ पर हिन्दू लड़कियों का धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम समुदाय के लोगो से शादी करवा दी जाती है और कार्यक्रम में मौजूद वहाँ  सभी शरणार्थियों ने भारत सरकार का धन्यवाद किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के आने से पड़ोसी देशों पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के प्रताडि़त लोगों को नागरिकता मिलने के रास्ते खुल गए हैं। इस अधिनियम के तहत हरियाणा में पाकिस्तान और अफगानिस्तान से  आये लोगों को भारत की नागरिकता मिल सकेगी और अब वे भारत के नागरिक बन कर खुशहाल जीवन जीएगें।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में रहने वाले अल्पसंख्यको को बहुत ज्यादा प्रताडि़त किया जाता है परंतु भारत मे किसी भी अल्पसंख्यको के ऊपर कोई अत्याचार नही होते,सब आजाद होने के साथ साथ सुरक्षित भी है। उन्होंने कहा कि शरणार्थियों की सुरक्षा करना हमारा कर्तव्य है।

मनोहर लाल ने कहा कि नागरिकता संसोधन अधिनियम 2019 को संसद में पास होने पर विपक्षी पार्टीयो के लोगों द्वारा देश के लोगो मे झूठ फैलाने का काम शुरू कर दिया है जिसके कारण देश व प्रदेश में अराजकता का माहौल बन गया। लोगों में फैली हुई भ्रांतियों को दूर करने के लिए हमने लोगों को जागरूक करने के लिए जन जागरण अभियान चलाया है। ताकि लोगो को अधिनियम की सही जानकारी प्राप्त हो। उन्होंने कहा कि अगर विपक्ष को विरोध करना है तो पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में अल्पसंख्यको के लिए बने कानूनों और अल्पसंख्यको पर हो रहे अत्याचारो का विरोध करो।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि नागरिक संसोधन अधिनियम 2019 नागरिकता छीनने का नही नागरिकता देने का कानून है जिसके तहत पड़ोसी देशों पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान से आए हिन्दू, सिख, जैन, बोद्ध, ईसाई को नागरिकता दी जाएगी।

        उन्होंने कहा कि पिछले दिनों पाकिस्तान में सिख गुरूद्वारे पर हुए पथराव की घटना बहुत ही दयनीय है, जो वहाँ के अल्पसंख्यको पर अत्याचार है। इसलिए हम सबको मिलकर मानवता के प्रति अपनी आवाज उठानी चाहिए और उनके ऊपर हो रहे जुल्मों से उनको बचाना चाहिए।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

राज्य की 95 पैक्स (PACS) सोसाइटियों की होगी कायापलट, अब करेंगी मल्टी पर्पज सैंटर के रूप में काम

ग्रामीण क्षेतî…