राहुल गांधी हरियाणा से चुनाव लड़ें, बच्चा पार्टी उनकी जमानत जब्त करेगी- दुष्यंत चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Bhiwani, 10 Mar,2019

सांसद दुष्यंत चौटाला ने भाजपा व कांग्रेस पर निशाना साधते हुए दावा किया कि लोकसभा चुनावों में भाजपा का खाता नहीं खुलेगा और साथ ही उन्होने कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर द्वारा जेजेपी को बच्चा पार्टी कहने जाने पर पलटवार किया कि राहुल गाधीं हरियाणा से चुनाव लड़ें तो बच्चा पार्टी उनकी जमानत जब्त करेगी।

बता दें कि हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला रविवार को बवानीखेङा हलके के दौरे पर थे। इस दौरान उन्होने बवानीखेङा विधानसभा की 9 पंचायतों को पानी के टैंकर भेंट किए। ये वो पंचायतें थी, जो पहले बच गई थी। अब बवानीखेङा विधानसभा की लगभग हर पंचायत को पानी के टैंकर मिल चुके हैं। सांसद ने बताया कि गांवों में पेयजल की कमी दूर करने के लिए ये कदम उठाया था और करीब 250 पंचायतों को करीब 2.5-3 करोङ रुपये की लागत के ये टैंकर वितरित किए गए हैं। उन्होने बताया कि जिन पंचायतों को ये टैंकर सालों पहले दिए थे वो आज आभार जता रही हैं।

इस दौरान सांसद दुष्यंत चौटाला ने लोकसभा चुनावों को लेकर कहा कि भाजपा 10 की 10 सीटें जीतने का केवल दावा कर रही है, लेकिन हम चुनावों के इंतजार में हैं। उन्होने कहा कि आज जो हालात हैं वहीं रहे तो हम भाजपा का खाता नहीं खुलने देंगें। साथ ही उन्होने कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर द्वारा जेजेपी को बच्चा पार्टी कहने जाने पर पलटवार किया और कहा कि कांग्रेस राहुल गांधी को हरियाणा से चुनाव लङाए तो ये बच्चा पार्टी उनकी जमानत जब्त कर देगी। दुष्यंत ने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार विधानसभा में आजकल कानूनों में जो संसोधन कर रही है वो अपने व्यापारी साथियों को लाभ पहुंचाने के लिए हो रहे हैं।

सांसद दुष्यंत ने कहा कि उन्होने चुनाव आयोग को पत्र लिखा था, जिसके बाद आयोग ने संज्ञान लिया और कहा है कि राजनीतिक पार्टियां चुनावों में सैनिकों या शहीदों को पोस्टर या फोटो ना लगाएं। उन्होने कहा कि ये पत्र विंग कमांडर अभिनंदन के वतन लौटने के बाद भाजपा द्वारा उनके फोटो लगाकर की जा रही राजनीति के बाद लिखा गया था।

सासंद ने भाजपा को नसीहत दी कि वो केवल राष्ट्रवाद के नाम पर राजनीति ना करे, बल्कि रोजगार, विकास व महिला सुरक्षा की भी बात करे। उन्होने प्रदेश सरकार की नौकरियों में पार्दशिता पर भी सवाल उठाए और हर परीक्षा के पेपर आऊट हुए हैं। यहां तक की ज्यूडिशरी के पेपर लीक का मामला सुप्रिम कोर्ट में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *