हरियाणा सरकार का बड़ा ऐलान- जितना बड़ा होगा मेडल, उतनी बड़ी मिलेगी नौकरी

Breaking खेत-खलिहान खेल चर्चा में बड़ी ख़बरें युवा युवा चैम्पियन सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा के खिलाड़ी हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 10 August, 2018

पिछले दिनों खिलाड़ियों की नौकरी को लेकर हुए विवाद में अब सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने ऐलान किया है कि खिलाड़ियों को उनके मेडल के हिसाब से नौकरी दी जाएगी। जितना बड़ा मेडल होगा, उतनी ही बड़ी नौकरी मिलेगी। अब मेडल ही उनकी नौकरी भी तय करेगा।

बता दें कि ओलंपिक और पैरालिंपिक्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले सभी खिलाड़ियों को 8 साल की सीनियोरिटी के साथ- साथ HCS व HPS की नौकरी दी जाएगी। इसके साथ ही वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल हासिल करने वालो को 4 साल की सीनियोंरिटी के साथ यह पद दिए जाएंगे।

वहीं, सिल्वर मेडल जीतने वालो को बिना किसी सीनियोरिटी के यह नौकरी दी जाएगी। एशियन गेम्स और पैरा एशियन गेम्स के मेडल विजेता को भी यह पद मिलेगा। 4 साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों व उनकी टीम के सभी सदस्यों को HCS व HPS बनाया जाएगा।

किस प्रकार मिलेंगी नौकरियां-

A : 4 साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉंज मेडल, एशियन व पैरा एशियन गेम्स में सिल्वर, कॉमनवेल्थ गेम्स व कॉमनवेल्थ गेम्स पैरा एथलेटिक्स में गोल्ड, ओलंपिक से संबंधित इंटरनेशनल गेम्स, IBS वर्ल्ड चैंपियनशिप व डीफलिंपिक्स में गोल्ड जीतने वाले इन सभी खिलाड़ियों को ग्रुप A में नौकरी दी जाएंगी।

B : 4 साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में क्वार्टर फाइनल में पहुंचने, एशियन व पैरा एशियन गेम्स में ब्रॉंज, कॉमनवेल्थ गेम्स पैरा एथलेटिक्स, इंटरनेशनल चैंपियनशिप IOC से मान्यता, IBSA वर्ल्ड चैंपियनशिप व डिफलिंपिक में सिल्वर, इंटरनेशनल चैंपियनशिप नॉन ओलंपिक खेल में गोल्ड, वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स ओलंपिक से संबंधित में सिल्वर व ब्रॉंज, वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स, कॉमनवेल्थ में व्यक्तिगत गोल्ड मेडल जीतने पर ग्रुप B में नौकरी दी जाएगी।

C : 4 साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में शामिल होने, एशियन गेम्स व पैरा एशियन गेम्स में क्वार्टर फाइनल तक पहुंचने, कॉमनवेल्थ गेम्स व कॉमनवेल्थ गेम्स पैरा एथलेटिक्स और इंटरनेशनल चैंपियनशिप में ब्रॉंज जीतने वालों को ग्रुप C की नौकरी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *