प्रदेश सरकार बेटियों के लिए चलाएगी 100 ‘पिंक एक्सप्रेस’ बसें, केंद्र को भेजा प्रस्ताव

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Chandigarh, 21 Feb,2019

‘निर्भया निधि योजना’ के तहत हरियाणा सरकार बेटियों के लिए 100 स्पेशल बस चलाएगी। ‘पिंक एक्सप्रेस’  नाम से चलने वाली इन बसों की खरीद के लिए राज्य सरकार ने केंद्र को प्रस्ताव भेज दिया है। केंद्र से मंजूरी मिलते ही इन बसों को खरीदा जाएगा। इन बसों को उन शहरों में चलाया जाएगा, यहां कामकाजी महिलाओं की संख्या अधिक है और जो देर रात घर लौटती हैं।

इन बसों को पुरुषों की जगह ड्राइवर व कंडक्टर भी महिलाएं ही होंगी। बसों में केवल अकेली या एक साथी के साथ यात्रा करने वाली महिला यात्रियों को प्राथमिकता दी जाएगी। गुरुग्राम व फरीदाबाद सहित बड़े शहरों में स्थापित कॉल सेंटर व अन्य एमएनसी (मल्टी नेशनल कंपनी) में काम करने वाली महिलाओं के लिए इन बसों का सबसे अधिक फायदा होगा।

राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य के अभिभाषण में इस नयी योजना का जिक्र किया गया है। स्कूल जाने वाले बच्चों की सुरक्षा के लिए ‘सुरक्षित स्कूल वाहन नीति’ लागू की गई है। इसके तहत प्राइवेट स्कूलों की बसों में आईपी कैमरा और जीपीएस सिस्टम लगाना अनिवार्य किया गया है। इसके साथ ही चालक-परिचालक तैयार करने के लिए भिवानी के कालूवास, नूंह के छपर, रेवाड़ी के जयसिंहपुर खेड़ा और करनाल के उचानी में ड्राइविंग प्रशिक्षण संस्थान मंजूर किए हैं।

सरकार द्वारा सभी जिला मुख्यालयों के अलावा सब-डिवीजन स्तर पर विशेष महिला थाने स्थापित किए गए हैं। अभी तक 30 महिला थाने बनाए जा चुके हैं। इनमें डीएसपी इंचार्ज से लेकर कांस्टेबल तक सभी महिलाएं तैनात हैं। अब सरकार ने थानों में कार्यरत महिला स्टाफ की सुविधा के लिए सभी तीस थानों में क्रेच खोलने की मंजूरी दी है। महिला पुलिस कर्मचारी अपने बच्चों को इन क्रेच में छोड़कर अपनी ड्यूटी कर सकेंगी।

इसके साथ ही सीमा पर मुठभेड़, आतंकवादी हमलों या दंगों में शहीद सशस्त्र बलों व अर्ध-सैनिक बलों के जवानों के आश्रितों को अब क्लास-टू की नौकरी दी जाएगी। अभी केवल तृतीय व चतुर्थ श्रेणी की ही नौकरी का प्रावधान था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *