भूतपूर्व सरपंचों को मिलेगी एक हजार रुपये पेंशन, जोखिम भरे काम करने वाले कर्मचारियों का होगा बीमा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 02 Nov, 2018
हरियाणा सरकार ने हरियाणा दिवस के मौके पर प्रदेशवासियों को बड़ी राहत देते हुए लाल डोरे से मुक्ति दिलाने, प्रदेश के सभी भूतपूर्व सरपंचों, जिला परिषदों व ब्लॉक समितियों के प्रधानों को मासिक पेंशन देने, प्रदेश के सभी चौकीदारों को आयुष्मान योजना में शामिल करने और लाईन मैन, सहायक लाईन मैन, फायर मैन, फायर ड्राईवर और सीवर मैन के जोखिम भरे काम के लिए उनका 10 लाख रूपये का जीवन बीमा करवाने का निर्णय लिया है।
यह जानकारी  सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने आज यहां आयोजित प्रेस वार्ता में दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 नवंबर को सुबह साढ़े 10 बजे वीडियो कॉनफ्रेंसिंग के माध्यम से केएमपी का उद्धाटन करेंगे। उन्होंने बताया कि सरकार ने लाल डोरे की प्रथा को खत्म कर दिया है। अब इस प्रथा के खत्म होने प्रोपर्टी की रजिस्ट्री हो सकेगी।
उन्होंने बताया कि सरकार ने प्रदेश के सभी भूतपूर्व सरपंचों, जिला परिषदों व ब्लॉक समितियों के प्रधानों को सम्मान के रूप में 1000 रुपये तथा अधिकतम 2000 रुपये प्रति माह पेंशन देने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि नगर निगमों के सभी भूतपूर्व मेयर को भी हर अवधि के लिए 2500 रूपये तथा भूतपूर्व सीनियर डिप्टी मेयर, भूतपूर्व डिप्टी मेयर, हर नगर परिषद के प्रधान को 2000 रूपये व नगर पालिका के भूतपूर्व प्रधानों को 1000 रुपये, भूतपूर्व सरपंचों  को 1000 रुपये, जिला परिषद के भूतपूर्व चेयरमैन को 1500 रुपये, ब्लॉक समिति के भूतपूर्व चेयरमैन को 1500 रुपये, भूतपूर्व वाईस चेयरमैन को 1000 रुपये प्रति माह पैंशन दी जाएगी। उन्होंने बताया कि ढ़ाई साल या इससे अधिक के कार्यकाल पूरा करने वालों को ही इस पेंशन का लाभ मिलेगा।
उन्होंने बताया कि सरकार ने प्रदेश के नंबरदारों को पहले ही आयुष्माोन योजना में शामिल कर इस योजना का लाभ दे रही है। अब सरकार ने प्रदेश के चौकीदरों को भी इस योजना में शामिल करने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि सरकार सभी लाईन मैन, सहायक लाईन मैन, फायर मैन, फायर ड्राईवर और सीवर मैन को उनका काम अधिक जोखिम भरा होने के कारण 10 लाख रूपये का जीवन बीमा करवाएगी। इसका प्रीमियम सरकार द्वारा भरा जाएगा।

बेदी ने बताया कि अब सभी छात्र-छात्राओं को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए सरकारी दफतरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगें। उनके लर्निंग लाईसेंस अब शिक्षण संस्थानों में बनेंगे। रेगूलर लाईसेंस के लिए ड्राईविंग टेस्ट भी उन्हीं के शिक्षण संस्थानों में होगा। उन्होंने बताया कि सक्षम योजना में पहले पोस्ट ग्रेजुएट, गेजुएट में टेक्निकल और मेडिकल छात्रों को लाभ मिलता था। अब सभी ग्रेजुएट युवाओं को भी शामिल किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि   खेतों में जाने वाले 3 और 4 करम के रास्तों पर लाल ईंटों का खडंजा बिछाकार पक्का किया जाएगा। इसी वर्ष हर विधान सभा क्षेत्र में 25 किलोमिटर लंबे ऐसे रास्ते पक्के किए जाएंगे।इसके लिए 300 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है। उन्होंने बताया कि    खेतों में जाने वाले नहरी खाले 24 फुट प्रति एकड़ को 40 फुट प्रति एकड़ किया गया है। सरकार अब 40 फुट प्रति एकड़ नहरी खाला बनाकर देगी।
उन्होंने बताया कि 20 नवम्बर, 2017 को हरियाणा सरकार के सभी कर्मचारियों को 6 तरह की बीमारियों के लिए कैश-लैस स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाई गयी थी। अब इसका स्कोप बढ़ाकर सभी बीमारियों तक बढ़ाने तथा चिकित्सा प्रतिपूर्ती की सारी की सारी स्कीम को कैश-लैस किया गया है।
जींद उपचुनाव से संबंधित एक प्रश्न का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग चुनाव की तारीख तय करता है, इसमें सरकार किसी भी तरह से हस्तक्षेप नहीं कर सकती। पार्टी चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकर जनता के लिए और जनता हित में कार्य करती रही है और आज भी कर रहे हैं।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से संबंधित एक प्रश्न के जवाब में बेदी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की हालत आज ऐसी है कि वे दिल्ली को बचा लें वही बड़ी बात है।
अभय चौटाला के आरोप के संबंध में पूछे गए प्रश्न का जवाब देते हुए बेदी ने कहा कि वे परिवारिक बात पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाश‌हते। लेकिन राजनीतिक जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अभय चौटाला को परिवार को संभालना चाहिए। आज कोई बाहर का व्यक्ति या विपक्ष के लोग कोई विरोध नहीं कर रहे हैं बल्कि उनके अपने लोग विरोध कर रहे हैं। इसलिए अभय सिंह को किसी पर आरोप लगाने की बजाए परिवार को संभालना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *