हरियाणा सरकार का बड़ा ऐलान, ग्रुप-सी व डी की नौकरी देने वाली कंपनियों को प्रति पद 3 हजार देगी सरकार

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें रोजगार सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Yuva Haryana
Chandigarh, 24 August, 2018
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में स्थापित होने वाले उद्योगों द्वारा अपनी इकाइयों में प्रदेश के युवाओं को ग्रुप-सी व डी के पदों पर रोजगार देने पर राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक इकाइयों को प्रति पद 3,000 रुपये का अनुदान दिया जाएगा। 
मुख्यमंत्री ने आज नई दिल्ली में पीएचडी चैम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रटी द्वारा आयोजित States @ New India 2022 Conclave में  मुख्य  अतिथि के रूप में अपने सम्बोधन के दौरान यह जानकारी दी । 
मनोहर लाल ने हरियाणा में औद्योगिक विकास को गति देने की दिशा में किए गए नीतिगत परिवर्तनों तथा उद्योग एवं व्यवसाय क्षेत्र के लिए प्रदेश में उपलब्ध आधारभूत संरचना का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश में स्थापित होने वाले सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों को विद्युत खर्च में दो रुपये प्रति यूनिट अनुदान दिया जाता है। प्रदेश में ऑटो,टेक्सटाइल्स व फार्मास्यूटिकल्स उद्योगों का तेजी से विकास एवं विस्तार हुआ है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्यात के मामले में हरियाणा देश में पांचवें स्थान पर है। वर्ष 2016-17 में हरियाणा का निर्यात 82,566.5 करोड़ रुपये रहा। प्रधानमंत्री के मेक इन इंडिया की भांति हरियाणा में मेक इन हरियाणा पर बल दिया जा रहा है। इज ऑफ डूइंग बिजनैस के दृष्टिकोण से हरियाणा उत्तर भारत में प्रथम स्थान पर व देश में तीसरे स्थान पर है।
प्रदूषण के सुधारों के दृष्टिगत हरियाणा प्रथम स्थान पर व उद्यमिता के प्रोत्साहन के लिए सुधारों के दृष्टिगत द्वितीय स्थान पर है। प्रदेश में उद्यमों की स्थापना के लिए हरियाणा एंटरप्राइज प्रोमोशन सेंटर के माध्यम से विभिन्न प्रकार की स्वीकृतियां व अनापत्तियां 45 दिनों की  समयावधि में प्रदान की जाती हैं।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में मेक इन इंडिया, स्किल इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया व स्टैंड अप इंडिया जैसे कार्यक्रमों के परिणामस्वरूप राष्ट्र नया रूप ले रहा है। 
मुख्यमंत्री ने मेगा फूड पार्क योजना का जिक्र करते हुए कहा कि खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को प्रोत्साहन देना हरियाणा की प्राथमिकता है। उन्होंने केएमपी एक्सप्रेस वे तथा दिल्ली -मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर, हिसार एविएशन हब, केएमपी कॉरीडोर के साथ स्थापित किए जाने वाले पांच शहरों का भी जिक्र करते हुए निवेशकों से हरियाणा में अधिक से अधिक निवेश का आह्वान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *