हरियाणा सरकार की विद्यार्थियों के लिए पहल, 5-5 लाख रुपये का देगी पुरस्कार, जानिये योजना ?

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
हरियाणा के सरकारी कालेजों में पढऩे वाले विद्यार्थियों की प्रतिभा को प्रोत्साहित करने के लिए प्रदेश में पहली बार शुरू की गई स्टार्ट-अप प्रतियोगिता में टॉप-5 टीमों को 5-5 लाख रूपए का पुरस्कार दिया जाएगा। स्टार्ट-अप प्रतियोगिता के प्रतिभागियों की फाइनल प्रस्तुती 23 व 24 जनवरी 2020 को उच्चतर शिक्षा निदेशालय पंचकूला में होगी।

इस बारे में जानकारी देते हुए उच्चतर शिक्षा विभाग के उपनिदेशक(समन्वय)डॉ. हेमंत वर्मा ने बताया कि हरियाणा सरकार ने युवाओं की प्रतिभा को उजागर करने व प्रोत्साहित करने के लिए प्रदेश के सरकारी कालेजों में पहली बार स्टार्ट-अप प्रतियोगिता प्रतियोगिता शुरू की गई है। इसके तहत गत 13 जून 2019 को प्रथम चरण में कालेजों में यह प्रतियोगिता आरंभ की गई जिसमें 31 टीमों ने अपने-अपने स्टार्ट-अप की प्रस्तुति दी। इनमें अव्वल आने वाले स्टार्ट-अप में से अब 22 कालेजों द्वारा स्टेट लेवल की स्टार्ट-अप प्रतियोगिता के लिए प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं जिनको उच्चतर शिक्षा निदेशालय में 23 व 24 जनवरी को 10 से 15 मिनट की अपनी-अपनी प्रस्तुति देने के लिए आमंत्रित किया गया है।

डॉ. वर्मा ने बताया कि 23 जनवरी को द्रोणाचार्य राजकीय महाविद्यालय गुरूग्राम, राजकीय कन्या महाविद्यालय हिसार, राजकीय महाविद्यालय अंबाला कैंट, राजकीय महाविद्यालय बहादुरगढ़, राजकीय महाविद्यालय भिवानी, राजकीय महिला महाविद्यालय भिवानी, राजकीय महाविद्यालय सैक्टर-1 पंचकूला, राजकीय महिला महाविद्यालय रोहतक, राजकीय नेशनल महाविद्यालय सिरसा, राजकीय महाविद्यालय तावडू तथा राजकीय महिला महाविद्यालय फरीदाबाद की टीमें अपन-अपनेे स्टार्ट-अप की प्रस्तुति देंगी।

इसके बाद, अगले दिन 24 जनवरी को राजकीय महाविद्यालय फरीदाबाद, राजकीय महाविद्यालय झज्जर, राजकीय महाविद्यालय जींद, राजकीय महिला महाविद्यालय जींद, राजकीय महाविद्यालय करनाल, राजकीय महाविद्यालय कालका, राजकीय महाविद्यालय नारनौल, राजकीय महाविद्यालय नरवाना, नेकीराम शर्मा राजकीय महाविद्यालय रोहतक, राजकीय महाविद्यालय सैक्टर-9 गुरूग्राम तथा राजकीय महाविद्यालय हांसी की टीमें अपने-अपने स्टार्ट-अप की प्रस्तुति देंगी।

उन्होंने आगे बताया कि सभी 22 टीमों की प्रस्तुति के बाद निर्णायक मंडल टॉप-5 स्टार्ट-अप का चयन करेगा। इन टॉप-5 स्टार्ट-अप को हरियाणा सरकार द्वारा 5-5 लाख रूपए का पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *