हरियाणा की पहाड़ियों में कला की खोज, दुनियांभर के कलाकारों ने यहां डाला है डेरा

हरियाणा हरियाणा विशेष

चंडीगढ़ से करीब 50 किलोमीटर दूर मोरनी हिल्स के पास छोटा सा गांव है बदीशेर, यहां पर पिछले तीन सालों से सैंकड़ों देसी-विदेशी कलाकार हैं और अपनी कलाकारी के जरिये गांववालों का भी दिल जीत रहे हैं। यहां पर बना हुआ है हिलिंग हिल आर्ट स्पेस।

यहां पर बने हिलिंग हिल्स आर्ट स्पेस में कलाकृतियों का अनूठा संगम है, यहां पर देश-विदेश से लोग सीखने के लिए आते हैं, कलाकारों के लिए यहां पर सब कुछ है, मनोरंजन भी, कलाकृतियां और कलाकारी। गीत संगीत का यहां पर आनंद लेते हैं।

यहां पर ग्रामीण भी इनसे बहुत खुश हैं, इन कलाकारों को स्थानीय लोगों ने कम कीमत पर जमीन दी है तो वहीं ग्रामीण हर तरीके से इनकी सहायता भी करते हैं। इसके बदले ग्रामीणों को भी यहां आने वाले टूरिस्टों से काफी आमदनी होती है।

इस आर्ट स्पेस पर कलाकारों को मूल सुविधाएं भी मिलती है, एक सप्ताह ठहरने के लिए करीब एक हजार रुपये का भुगतान किया जाता है, जिसमें खाना-पीना और कलाकारों को ट्रेनिंग दी जाती है।

पंजाब के रहने वाले हरमीत सिंह बताते हैं कि उन्होने 2015 में इसे चार कमरों से शुरु किया था, लेकिन अब यहां पर बड़ी इमारत बन गई है, यहां आने वालों के लिए हर सुविधाएं है।

यहां पर छात्रों को कलाकारों के साथ-साथ भारतीय संस्कृति का भी नजारा देखने को मिलता है। यहां पर ग्रामीण जीवन का खूब आनंद लेते हैं तो वहीं ग्रामीण भी जैविक खेती करते हैं।

बदीशेर गांव के ग्रामीणों का कहना है कि यहां पर इस प्रकार के कार्यक्रम होने से गांव के युवाओं को रोजगार मिला है। यहां पर आने वाले लोगों की वजह से उनका रोजगार बढ़ा है।

गांव के सरपंच अजय सिंह बताते हैं कि हमारी महिलाओं ने कभी गैस चूल्हा और स्टोव नहीं देखे थे, लेकिन अब महिलाएं गैस चूल्हा चला रही है और उनको देखकर तकनीकें सीख रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *