ग्रुप डी की भर्ती कुंवारों के लिए बनकर आई शादी की सौगात, सरकारी नौकरी के साथ अब ओवरऐज वालों को भी मिली दुल्हन

Breaking कला-संस्कृति चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 9 Feb, 2019

हरियाणा में नौकरी को लेकर लोगों में एक भारी चिंता है। युवाओं के साथ-साथ अन्य उम्र का बेरोजगार व्यक्ति भी सरकारी नौकरी की तलाश में रहता है। प्रदेश में पहली बार ग्रुप डी की बंपर भर्तियां की गई हैं, जिसके चलते उन लोगों का भाग्य भी चमक गया है, जिनकी शादी नहीं हो रही थी।

ग्रुप डी की सरकारी नौकरी के साथ युवाओं के शादी के कई रिश्ते आने लगे हैं। खास बात तो यह है कि जिनकी शादी की उम्र निकल गई थी और बेरोजगारी की वजह से उनकी शादी नहीं हो पा रही थी, उनके भी कई रिश्ते आने लगे हैं।

इसी के चलते हरियाणा में सोशल मीडिया पर एक गाना ‘म्हारा भी ब्याह होवैगा, भाग गाज ग्या, डी ग्रुप की भर्ती मै चपरासी लाग ग्या’ भी काफी फेमस हो रहा है।

बता दें कि एक दशक पहले आई मंदी और प्राइवेट नौकरी में हो रहे उतार-चढ़ाव को देखकर प्रदेश की हर महिला कह रही है कि बेटी की शादी सरकारी नौकरी वाले लड़के से ही की करवाएंगे। ‘छोरी को ढूंढो सजन, भले ही हो पटवारी’। अब ग्रप डी की भर्ती के बाद कहा जा रहा है कि ‘छोरी को ढूंढो सजन, भले ही हो चपरासी’।

प्रदेश में ग्रुप डी की 18 हजार भर्तियों का रिजल्ट जारी हुआ था और अब ज्वाइनिंग भी लगातार जारी है। जिसके चलते युवाओं के बहुत से रिश्ते आ रहे हैं। ओवरऐज वाले लोग जिनकी उम्र 35 से ज्यादा हो गई थी और कोई शादी नहीं करना चाहता था उनकी किस्मत खुल गई है। अब ओवरऐज वालों के भी इतने अधिक रिश्ते आ रहे हैं कि वह भी लड़की चुनने में नखरे मारने लगे हैं और कह रहे हैं कि हमें तो पढ़ी-लिखी एमए, बीएड लड़की चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *