इनेलो करेगी 17 फरवरी को बड़ी रैली, पेरोल पर आएंगे ओम प्रकाश चौटाला, रैली में करेंगे शिरकत-अभय चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 9 Dec, 2018

चंडीगढ़ में इनेलो कार्यकारिणी की बैठक इनेलो नेता अभय चौटाला द्वारा की जा रही है। अभया ने कहा कि मेयर के चुनाव में कांग्रेस भी सिंबल पर लड़ने की बात करती थी और बीजेपी भी अपने कॉडर के उम्मीदवार उतारने की बात करते थे, नगर निगम चुनाव बसपा इनेलो का गठबंधन लड़ रहा है, हमनें बसपा को पांचों नगर निगम में उनके उम्मीदवार उतारने का ऑफर दिया था, लेकिन गठबन्धन के उम्मीदवार उतरे है ये हरियाणा से थर्ड फ्रंट की शुरुआत है।

अभय चौटाला ने कहा जिन नगर निगमों के चुनाव है उनमें आस-पास से बसपा – इनेलो के नेता चुनाव में जिम्मेवारी निभाएं। कांग्रेस मेयर चुनाव में मैदान छोड़कर भाग गई, इसकी वजह है कि कांग्रेस में सात- आठ नेता है, जो रात को सीएम बनकर सौते हैं। सभी कांग्रेसी अलग-अलग कैंडिडेट को टिकट बांट थे और सिंबल पर चुनाव लड़ते तो पोल खुल जाती इसलिए सिंबल पर चुनाव लड़ने से भाग गए।

अभय चौटाला ने कहा बीजेपी के पास उम्मीदवार नहीं हैं, रोहतक में बीजेपी का जो उम्मीदवार है वो कांग्रेस में थे फिर बंसीलाल के साथ चले गए और अब बीजेपी इनको कर्नाटक से इनको लेकर आएं है और चुनाव लड़वा रहें है। अभय ने रोहतक से बीजेपी उम्मीदवार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक कहावत है लगाए कुत्ते शिकार नहीं मारते बीजेपी के पास इम्पोर्टड उम्मीदवार है जो जरूरत पड़ने पर पाला बदलते रहते हैं।

अभय चौटाला ने सीएम के नारे लगाने पर चुटकी लेते हुए कहा कि आज मैं नारे सुन रहा था कल भी कैथल कार्यक्रम में एक गीत में मेरे तिलक करने की बात कर रहा था मैनें उसे कहा था रहन दे कदे मेरी भी उनकी तरह रांद कट ज्या। अभय ने कहा 17 फरवरी को एक बड़ी रैली इनेलो करेगी। चौटाला साहब फरवरी में पैरोल पर आएंगे और बड़ी रैली में शिरकत करेंगे। पेरोल पर ओपी चौटाला पहले भी आएंगे, लेकिन फ़रवरी की रैली में आएंगे।

अभय चौटाला ने कहा जींद में चौधरी देवीलाल और अजय सिंह की फ़ोटो नहीं है। मिसेज अजय चौटाला और दिग्विजय चौटाला दुष्यंत के नाम को आगे बढ़ा रहा है,जो लोग अपने बड़े बुजुर्गों को इज्जत और मान सम्मान नहीं देते उनका अंत बुरा होता है। दुष्यंत चौटाला को ओपी चौटाला टिकट नहीं देना चाहते थे लेकिन मेरी गलती हो गई टिकट धक्के से दिलवा दी।

अभय ने कहा चौटाला साहब नैना के चुनाव लड़ने के पक्ष में नहीं थे। बोले महिला परिवार से राजनीति नहीं करेगी, लेकिन मैंने बोला पुरानी बात है, नैना को चुनाव लड़वाएंगे। दुष्यंत और नैना अपने पद से इस्तीफा देकर चुनाव लड़े. ये जमानत भी बचा गए तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा। अभय ने कहा चौटाला गांव से भी 1500 वोट कांग्रेस को पड़ती है, इस बार वो भी मेरे ख़िलाफ़ पड़ी तो राजनीति छोड़ दूंगा।

आटा छन चुका है नीचे से छान बच वो निकल गया है, अभय ने दुष्यन्त गुट पर निशाना साधते हुए कहा ये बीजेपी ,कांग्रेस या आम आदमी पर जाएंगे या गुपचुप उन्हें वोट देंगे. हमें तो इनसे वोट नहीं लेना है।

इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा और अभय चौटाला की प्रेस कॉन्फ्रेंस आज कार्यकारिणी की बैठक में नगर निगम चुनाव की तैयारी पर चर्चा की है जिले के मुताबिक़ इनेलो के पदाधिकारियों की ज़िम्मेवारी लगाई है हिसार के लिए सिरसा ,फ़तेहाबाद, और भिवानी के पदाधिकारियों की ड्यूटी लगाई है।

रोहतक में इनेलो विधायक नसीम अहमद ,परमिन्दर ढुल ,रामपाल माजरा की जिम्मेदारी रहेगी साथ ही झज्जर ,रेवाड़ी और महेंद्रगढ़ के पदाधिकारियों की जिम्मेवारी रहेगी। अभय ने कहा इसी तरह करनाल ,पानीपत और यमुनानगर में भी अशोक अरोड़ा समेत तमाम नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

अभय ने कहा आज की बैठक में जन अधिकार यात्रा को लेकर चर्चा की है, अभय ने कहा इससे पहले एक दिन में 4 कार्यक्रम तैयार किए थे लेकिन अब दिन छोटे होने लगे इसलिए 2-3 कार्यक्रम करेंगे, आज बैठक में एक प्रस्ताव पारित किया है। हमारी सरकार बनने पर कानून बनाएंगे 50 फ़ीसदी युवाओं को रोजगार मिलेगा।

इनेलो नेता अभय चौटाला का अजय चौटाला के नई पार्टी बनाने पर साधा निशाना कहा  2007 से जननायक सेवा दल बना ली थी और इसी तरह इनसो भी बना रखी थी, इनसो को जब ओपी चौटाला ने भंग किया गया, तो इन्होंने खुद कहा इसको भंग नहीं कर सकते। अभय चौटाला इनसो के बैनर पर ओपी चौटाला और इनेलो के नाम का मिस यूज किया गया ।

अभय चौटाला जिस दिन से ये इनेलो से अलग हुए इनसो वालों पर लाठी चार्ज हुआ, कॉलर पकड़कर जिप्सी में बैठाया। अभय चौटाला अभय ने कहा इनेलो अपने नए नाम के साथ छात्र संगठन जल्द गठित करेगी। लोगों से इस्तीफ़ा देने की बजाय उनकों खुद को इस्तीफा देकर चुनाव लड़ना चाहिए।

अभय चौटाला प्राइमरी मेंम्बरसीप से दुष्यन्त को निकाल रखा फिर भी इस्तीफा नहीं दे रहें, कहने से कुछ नहीं होता लिखकर दें। अभय ने कहा भाभी भी लिखकर स्पीकर को दे और कहें मैं इनेलो की प्राइमरी मेंम्बरशीप छोड़े, लेकिन पद के साथ जुड़े लालच है। अभय ने कहा राजकुमार सैनी और दुष्यंत एक ही थैली के चटे बटे है खुद इस्तीफा नही दें रहें है। 17 फ़रवरी तक इनेलो प्रदेश में पार्टी को मजबूत करेगी और 17 को इनेलो बसपा की बड़ी रैली करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *