Home Breaking RTI एक्टिविस्ट का बड़ा खुलासा, भाजपा सरकार ने चार साल में 647 युवाओं को ही दिया रोजगार

RTI एक्टिविस्ट का बड़ा खुलासा, भाजपा सरकार ने चार साल में 647 युवाओं को ही दिया रोजगार

0
0Shares

Deepak Khokhar, Yuva Haryana

Rohtak, 28 Nov, 2018

हरियाणा सरकार द्वारा बेरोजगारी युवाओं को सरकारी नौकरी देने वाले दावों की पोल एक आरटीआई में सामने आई है। सरकार का दावा है कि चार साल में करीब 28 हजार सरकारी नौकरी उपलब्ध करवाई गई है।

प्रदेश में रोजगार कार्यालयों से जब आरटीआई लगाई गई कि सरकार ने अब  तक रोजगार कार्यालय के माध्यम से कितनी नौकरी प्रदान की है तो बड़ा ही चौकाने वाला खुलासा हुआ। हरियाणा सरकार के सभी जिलों से नौकरी का आंकड़ा दिया, जिसमें मात्र चार साल में 647 ही नौकरी दी गई हैं।

वहीं इन आंकड़ों के आने के बाद विपक्ष भी सरकार पर हमला बोल रहा है। लेकिन सरकार के सहकारिता राज्य मंत्री सरकार के बचाव में आए। उन्होंने कहा कि हमारा एक लाख नौकरी देने का वायदा है। अब तक 40 हजार नौकरी दे चुके हैं। आरटीआई में कहां से आंकड़ा दिया गया है।

आरटीआई कर्ता सुभाष रोहतक निवासी ने बताया कि मैंने अप्रैल 2018 में एक आरटीआई लगाई थी जिसमें रोजगार कार्यालयो में नौकरी के बारे में जानकारी मांगी है। अब तक 15 जिलों ने मुझे आंकड़ा दिया, जिसमें 15 लाख युवा बेरोजगार हैं। अभी तक जो नौकरी देने की बात आई उसमें सिर्फ 647 युवाओं को रोजगार मिला है। किसी को कॉन्ट्रेक्ट पर और निजी क्षेत्र में। बेराजगारी भत्ता के बारे में जानकारी मांगी थी जो अभी 15 जिलों के अनुसार अलग अलग जिलों में लाखों रुपये मिला है।

हरियाणा के सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर ने कहा कि हमारी सरकार ने चार साल में 28 हजार हरियाणा स्टाफ सलेकेशन बोर्ड से व विश्वविद्यालयो व अन्य संस्थानों में मिलाकर कुल 40 हजार के करीब नौकरी दी है। मुझे नहीं मालूम कि आप के पास क्या आंकड़े हैं। मैं आपको इनके सबूत दे सकता हूं। हमारा लक्ष्य एक लाख युवाओं को नौकरी देना है।

 

 

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

इनेलो ने इन तीन जिलों से की जिलास्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन की शुरुआत, अभय चौटाला का फूलों की वर्षा से किया जोरदार स्वागत

Yuva Haryana, Chandigarh लॉकडाउन खत&…