हरियाणा पुलिस के जवान ने किया ऐसा काम, बचा ली लोगों की जान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष
Manu Mehta, Yuva Haryana
Gurugram, 30 Nov, 2018
आमूमन तौर पर पुलिस की रिश्वत लेते हुए लोगों के साथ बदसलूकी करते हुए कि तस्वीरें जरुर आपके सामने आती रहती है. लेकिन गुरुग्राम के सीएम फ्लाइंग में सब इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत जांबाज ऑफिसर ने रेवाडी में दो गुटों के बीच हो रहे खूनी संघर्ष में बीच बचाव करते हुए ना केवल लोगों की जान बचाई बल्कि पुलिस को अपराधीक प्रवृति के लोगों को गिरफ्तार भी कराया।
रेवाडी कोर्ट के सामने दोपहर करीब 1 बजे दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हो रहा था. सभी आरोपियों के हाथों में देशी कट्टे और दूसरे हथियार थे. कोर्ट के बाहर बेखौफ ये लोग एक दूसरे पर पत्थर, डंडों और देशी कट्टे से वार कर रहे थे. चंद कदमों की दूरी कुछ लोग और रेवाडी पुलिस के जवान भी थे. लेकिन महौल की गंभीरता देख गुरुग्राम सीएम फ्लाइंग में कार्यरत सब इंस्पेक्टर मुकेश कुमार ने अपनी जान की बाजी लगाकर उनका बीच बचाव किया और एक युवक को खुन से लथपथ होने के बाद उस झगड़े से निकालकर बाहर लाये. मुकेश की बाहदूरी देख आसपास खड़े दूसरे लोगों ने भी सहास जुटाया और मौके पर उन्हे काबू किया।
दरअसल मुकेश कुमार सुबह कोर्ट की तारीख पर रेवाडी गए थे. किसी मामले में जो सुनवाई थी वो  सुनवाई के बाद कोर्ट से बाहर निकले तो  उन्होंने देखा कि करीब एक दर्जन युवक कोर्ट के बाहर कुछ युवकों को पीट रहे है. जिनके हाथ में देशी कट्टा, डंडे , और पत्थर है. वही इस बीच कुछ युवकों को गंभीर चोटे भी लगी हुई थी। लेकिन आसपास खड़े लोग और रेवाडी पुलिस के जवान सिर्फ मुखदर्शक बने हुए थे. लेकिन मुकेश ने हालात बिगड़ते देख ये भाप गए की यदि इन्हे नहीं रोका तो इसमें से किसी की मौत भी हो सकती है. या फिर आसपास खडे लोगों को भी चोट आ सकती है।
जिसके बाद मुकेश ने अपनी जान की परवाह नहीं करते हुए बीच बचाव किया लेकिन इस दौरान आरोपियों ने उन्हे भी चोट मारी.हालांकि इस दौरान मुकेश कुमार ने पुलिस की वर्दी भी नहीं पहनी हुई थी।

 

जिसके कारण लोगों को ये नहीं मालूम था कि मुकेश पुलिस से है. लेकिन जैसे ही लोगों को पता चला कि सब इंस्पेक्टर मुकेश अकेले ही बीच बचाव कर रहे है उसके बाद कुछ लोगों ने साहस दिखाया और वो भी मौके पर आ गए. जिसके बाद सभी आरोपियों को काबू किया गया. उसके बाद रेवाडी पुलिस भी मौके पर पहुंची और उन्होंने आरोपियों के देशी कट्टा बरामद किये और उसके बाद घायलों के अस्पताल में भर्ती कराया गया।
रेवाडी पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और उनसे देशी कट्टे भी बरामद किये है…..बाताया जा रहा है दोनों गुटों के बीच आपसी कोई रंजिश थी जिसको लेकर कोर्ट के बाहर ये खूनी संघर्ष हुआ…. लेकिन इस बीच मुकेश कुमार की ये जांबाजी दूसरे पुलिस के जवानों को  अभिप्रेरित तो करती है…..उस बीच एक जांबाज पुलिस ऑफिसर का परिचय भी देती है…..क्यूकि ये खूनी संघर्ष में   थौड़ी से भी चूक मुकेश कुमार को भारी पड सकती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *