हाईकोर्ट ने सरकार को लगाई फटकार, 4600 नानॅ -एचटेट पीजीटी की नौकरी खतरें में

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें रोजगार सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Panchkula, 17 April, 2018

पंजाब- हरियाणा हाईकोर्ट ने एचटेट पास शिक्षकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए सरकार को फटकार लगाई है। नॉन एचटेट पीजीटी को हटाने के लिए याचिका दायर की गई थी।

सरकार से पूछा गया कि पात्रता परीक्षा पास न करने वाले शिक्षकों को अब तक क्यों नहीं हटाया गया और कैसे अपात्र शिक्षकों को स्कूलों में पढ़ाने की अनुमती दी जा सकती है।

हरियाणा के स्कूलों में 4600 से अधिक शिक्षक नॉन एचटेट हैं, जिनकी नौकरियों पर खतरा है। इन शिक्षकों को अपनी नौकरी बचाने के लिए 1 अप्रैल तक हरियाणा शिक्षक पात्रता परीक्षा पास करनी थी।

दायर याचिका में लिखा गया था कि साल 2012 में 14216 पीजीटी पदों का विज्ञापन जारी हुआ था, जिसमें हुड्डा सरकार ने अतिथि अध्यापकों को भर्ती में आवेदन करने का मौके दिया था।

सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों में 4 साल का शिक्षण अनुभव रखने वाले उम्मीदवारों को भर्ती में शामिल किया गया लेकिन शर्त ये थी कि चयनित होने पर उम्मीदवार को 1 अप्रैल 2015 तक अध्यापक पात्रता परीक्षा पास करनी होगी।

परीक्षा को पास करने में बहुत से उम्मीदवार विफल रहे, जिसके बाद उन्होंने सरकार पर दबाव बनाया कि उन्हें ज्यादा समय दिया जाए। हुड्डा सरकार ने इसे बढ़ाकर 1 अप्रैल 2018 कर दिया था।

इस दौरान अनेक बार परीक्षा होने के बावजूद भी शिक्षक ये परीक्षा पास नहीं कर पाए। अब ये शिक्षक फिर से विफल होने के बाद सरकार पर अध्यापक पात्रता परीक्षा पास करने के लिए 3- 4 साल का समय और मांग रहे हैं।

हालांकि शिक्षा मंत्री ने उन्हें और समय देने की घोषणा भी कर दी, जब्कि इस बारे में कानूनन कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं हुआ और न ही कोई विभागीय निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *