हरियाणा ने रोका यमुना नदी का पानी, दिल्ली ने हाईकोर्ट में हरियाणा के खिलाफ दायर की याचिका

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

New Delhi, 30 Jan, 2019

दिल्ली सरकार ने यमुना केपानी को लेकर हरियाणा सरकार के खिलाफ हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। दिल्ली सरकार ने कहा कि हरियाणा द्वारा यमुना में पर्याप्त पानी छोड़ने में रुकावट पैदा की जा रही है, जिससे दिल्ली को साफ पानी नहीं मिल पा रहा है।

बता दें कि दिल्ली सरकार के आरोप पर मुख्य न्यायमूर्ति वीके राव की पीठ ने हरियाणा सरकार को नोटिस जारी कर दिया है और 4 फरवरी तक जवाब दाखिल करने को कहा है।

दिल्ली जलबोर्ड की तरफ से वकील दयन कृष्णन और सुमित पुष्कर्णा ने अदालत को बताया कि प्रदूषण स्तर को कम करने के लिए कैनाल की तरफ से छोड़े जाने वाले अतिरिक्त पानी को हरियाणा से बंद कर दिया गया है। इससे वजीराबाद में उपलब्ध यमुना के पानी में अमोनिया की मात्रा बढ़ गई है, जिसे शोधित नहीं किया जा सकता। वजीराबाद पर शोधित होने वाली की अपूर्ति मध्य दिल्ली से होती है।

जल बोर्ड ने हरियाण द्वारा पैदा की जा रही रुकावट को हटाने का मांग की है, साथ ही कहा कि अगर हरियाणा यमुना से आने वाले प्रदूषण को नहीं रोक सकता तो प्रदूषण को कम करने के लिए पानी की अपूर्ति बढ़ाए। जल बोर्ड ने कहा कि पानी को रोकना एक अपराधिक मामला है और इसके लिए पांच साल की जेल का प्रावधान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *