पुरूष हो या महिला, बिना हेलमेट टू- व्हीलर लेकर निकले, तो होगा चालान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 31 May, 2018

लोग अपनी सुरक्षा को लेकर लापरवाह हो जाते हैं। नियमों को तोड़कर और बिना हेलमेट के ही अपने वाहन को लेकर सड़कों पर निकल पड़ते हैं। पुलिस के डर से कुछ जबरदस्ती हेलमेट पहनते हैं, तो कुछ लोग पुलिस की अनउपस्थिती का फायदा उठाकर टशन में घूमते हैं।

हेलमेट न पहनने के इन मामलों में अक्सर महिलाएं सबसे आगे हैं। हालांकि पुलिस की महिलाओं संग नरमी बरतने पर हाईकोर्ट ने भी फटकार लगाई थी। जिसमें ऐसा भी कहा गया था कि मौत जब आती है तो लिंग देखकर थोड़ी आती है।

कई सड़क हादसों के बावजूद, हेलमेट पहनने में लोग आनाकानी करते हैं। लेकिन अब ज्यादा दिनों तक ये मनमानी नहीं चलेगी, क्योंकि प्रदेश में यातायात व्यवस्था में और अधिक सुधार लाने के लिए सरकार द्वारा एक अभियान चलाया जाएगा।

1 जून से करीब एक महीने तक ये विशेष अभियान चलाया जाएगा, जिसके तहत राष्ट्रीय राजमार्ग पर ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों, विशेषकर बिना हेल्मट के दोपहियां वाहन चालकों से सख्ती से निपटा जाएगा।

जो भी महिला या पुरूष बिना हेलमट के दो पहिया वाहन चलाएगा,  डबल सवारी बिना हेल्मट के बिठायेगा या ट्रिपल सवारी करेगा, उनका चालान करके मोटर व्हीकल कें प्रावधानों के अनुरुप ड्राईविंग लाईसैंस को भी रद्द किया जाएगा।  इसके अतिरिक्त, ट्रिपलिंग राईडिग करने वालो पर विशेष ध्यान देकर, उन्हें दन्डित किया जायेगा।

हरियाणा में कुल 24 ट्रैफिक थाने खोले गये है। इसके अतिरिक्त 6 नये पुलिस स्टेशन कुंडली- मानेंसरं पलवल व कुंडली- गाजियाबाद- पलवल मार्ग पर हरियाणा क्षेत्र में पड़ने वाले प्रत्येक जिले में एक- एक थाना सोनीपत, झज्जर, गुरूग्राम, मेवात, पलवल और फरीदाबाद में भी जल्द ही खोले जाएगे।

बता दें कि पिछले पांच महीनों में 1 जनवरी 2018 से 27 मई 2018 तक ट्रैफिक नियम तोडने वालो के लगभग 11 लाख 88 हजार 562 चालान किये गये है। इसी के साथ-साथ केवल बिना हेल्मट के पुरूषों के 2 लाख 93 हजार 286 चालान व महिलाओं के 5968 चालान किए गए है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *