हरियाणा विधानसभा का आज हंगामेदार हो सकता है सत्र, विपक्ष के हो सकते हैं तीखे हमले

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 10 Sept, 2018

हरियाणा विधानसभा के मानसून सत्र का आज का दिन हंगामेदार रहने की संभावना है। सदन में आज विपक्ष की तरफ से सरकार पर तीखे हमले होने की संभावना है। सत्र की कार्यवाही आज दोपहर दो बजे शुरु होगी। हालांकि इससे पहले सात सितंबर को शुरु हुए विधानसभा सत्र के पहले दिन दिवंगत आत्माओं को श्रद्धांजलि देकर कार्यवाही को स्थगित कर दिया था।

आज विधानसभा के सत्र में कर्मचारियों के मुद्दों पर सरकार और विपक्ष की खींचतान हो सकती है। हाईकोर्ट के फैसले से प्रभावित कर्मचारियों को लेकर पहले सरकार अध्यादेश लाने की तैयारी कर रही थी लेकिन अब सरकार ने इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर कर दी है। हालांकि कर्मचारी संगठनों ने कच्चे कर्मचारियों की मांगों को लेकर आज विधानसभा घेराव की तैयारी कर रखी है वहीं विपक्ष की तरफ से कर्मचारियों के मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी की जा रही है।

इनेलो की तरफ से एसवाईएल के मुद्दे पर सरकार से बहस की तैयारी की जा रही है। इनेलो ने एसवाईएल नहर निर्माण को लेकर काम रोको प्रस्ताव दिया हुआ है। नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला के मुताबिक प्रदेश की जनता के लिए एसवाईएल का सबसे बड़ा मुद्दा है । सुप्रीम कोर्ट से केस जीतने के बाद अब केंद्र सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि इस नहर का निर्माण करवाया जाए और हरियाणा की जनता को पानी दिया जाए।

इधर कांग्रेस ने भी महंगाई के मुद्दे पर सरकार को घेरने की पूरी तैयारी कर ली है। कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने कहा कि तेल के दामों में लगातार इलाफा हो रहा है जबकि यूपीए सरकार में तेल के दामों में इतनी बढ़ोत्तरी कभी नही हुई थी। उन्होने कहा कि पेट्रोल-डीजल  और गैस के दामों में बेहताशा वृद्धि हो रही है जिस वजह से आम जनता की महंगाई से कमर टूट चुकी है।

जानिये क्या-क्या मुद्दे आज सदन में रह सकते हैं खास ?

  1. हाईकोर्ट से प्रभावित करीब साढे चार हजार कर्मचारियों का मामला।
  2. प्रदेश के करीब 60 हजार कच्चे कर्मचारियों का मामला।
  3. एसवाईएल नहर के निर्माण का मामला।
  4. तेल और गैस की लगातार बढ़ती किमतों का मामला।
  5. प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर चर्चा संभव।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *